मुख्यपृष्ठनए समाचारकेंद्र का कहर जारी.... फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम!... मुंबई में कीमतें...

केंद्र का कहर जारी…. फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम!… मुंबई में कीमतें पहुंची ११५ के पार

•  ८ दिनों में ७ बार बढ़े
• जनता परेशान, और बढ़ेंगी कीमतें
सामना संवाददाता / मुंबई । आज महंगाई की मार से त्रस्त हर इंसान फिल्म ‘पीपली लाइव’ का गीत ‘महंगाई डायन खाये जात है…’ गाने को मजबूर हो रहा है। केंद्र का कहर जारी है। चुनाव के दौरान र्इंधनों की जो दरवृद्धि करीब डेढ़ सौ दिनों तक रोक रखी गई थी। उन्हीं र्इंधनों के दाम पिछले ८ दिनों में सात बार बढ़ चुके हैं। परिणामस्वरूप मुंबई में पेट्रोल के दाम ११५ रुपए के पार पहुंच गए हैं। बार-बार बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतों से लोगों की दिनचर्या प्रभावित हो रही है। रोजमर्रा की लगभग सभी वस्तुओं के दाम बढ़ने लगे हैं। नतीजतन, अब पूरे देश की जनता महंगाई से त्राहि-त्राहि कर रही है। तेल के दामों में लगी आग का यह सिलसिला यहीं थमनेवाला नहीं है। र्इंधन की दरों में अभी और उछाल आएगा, ऐसा जानकारों का अनुमान है। अर्थात महंगाई डायन जनता को और रुलानेवाली है।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें २६.४२ प्रतिशत कम हो गई हैं। फिर भी हिंदुस्थान में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है। पिछले आठ दिनों में भारतीय तेल कंपनियों ने सात बार वाहनों के र्इंधन दर में तकरीबन पांच रुपए की वृद्धि की है। कल सातवीं बार पेट्रोल के दाम में ८० पैसे और डीजल के दाम में ७० पैसे की वृद्धि की गई। इससे पहले सोमवार को पेट्रोल ३० पैसे और डीजल ३५ पैसे प्रति लीटर महंगा किया गया था।
मुंबई, दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई सहित देश के प्रमुख शहरों में पेट्रोल १०० के पार हो गया है और डीजल के दाम भी शतक लगाने के करीब है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की कीमत ११५.०४ रुपए और डीजल के दाम ९९.२५ रुपए प्रति लीटर पर जा पहुंचा है। दिल्ली में पेट्रोल १००.२१, डीजल ९१.४७ रुपए प्रति लीटर, कोलकाता में पेट्रोल १०९.६८, डीजल ९४.६२ रुपए प्रति लीटर, चेन्नई में पेट्रोल के दाम १०५.९४ रुपए और डीजल की कीमत ९६ प्रति लीटर हो गई है।
२२ मार्च से लगातार बढ़ रहे हैं दाम
इंटरनेशनल मार्केट में रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच फरवरी में कच्चे तेल के दाम १३० डॉलर प्रति बैरल के उच्चतम स्तर से गिरकर अब १०३ डॉलर तक आ गए हैं, लेकिन इस बीच राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल-डीजल के भाव में भारी उछाल आ रहा है। अर्थशास्त्रियों का अनुमान है कि अभी वाहन र्इंधनों की कीमतों में बढ़ोतरी का सिलसिला थमनेवाला नहीं हैं। देश में २२ मार्च से पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सिर्फ २४ मार्च को छोड़ दें तो हर दिन तेल के दाम बढ़ रहे हैं। एक सप्ताह में लगभग ५ रुपए तक की बढ़ोतरी वाहन र्इंधन में की गई है।
बढ़ रहा जनता में आक्रोश
पेट्रोल-डीजल की बढ़ रही कीमतों को लेकर आवाज उठने लगी है। जनता में केंद्र सरकार के प्रति रोष बढ़ता जा रहा है। राकांपा प्रदेश प्रवक्ता महेश तपासे ने बताया कि महाराष्ट्र सरकार ने सीएनजी पर लगनेवाले वैट में १० फीसदी की कमी करके जरूरतमंदों को बड़ी राहत दी है। इस पैâसले पर १ अप्रैल से अमल किया जाएगा। दूसरी ओर केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार वृद्धि करती जा रही है। पहले से परेशान आम जनता में केंद्र सरकार के प्रति आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

अन्य समाचार