मुख्यपृष्ठनए समाचारठाणे में भी घाटकोपर जैसे हादसे की आशंका!

ठाणे में भी घाटकोपर जैसे हादसे की आशंका!

सामना संवाददाता / ठाणे
मुंबई में तूफानी हवा के कारण एक होर्डिंग गिरने से १८ लोगों की मौत हो गई थी। इस हादसे से सबक लेते हुए अब ठाणे मनपा भी नींद से जाग गई है। अब ठाणे मनपा की तरफ से होर्डिंग्स कंपनी के मालिकों की बैठक आयोजित कर होर्डिंग्स नियमों के साथ-साथ अनुपालन संरचनात्मक ऑडिट करने का भी आदेश दिया गया है। बताया जाता है कि ठाणे में भी लगभग ३०० होर्डिंग्स लगे हुए हैं, जिसमें ओवरसाइज्ड होर्डिंग्स की संख्या करीब ९० है।
हर सड़क पर अवैध होर्डिंग्स
शहर के आनंदनगर, तीन हाथ नाका, नितिन कंपनी, स्टेशन परिसर, जांबली नाका, टेंबी नाका, कैसलमिल, गोकुल नगर, माजीवाड़ा, कापुरबावड़ी, मानपाड़ा, विद्यापीठ सहित शहर की हर सड़क पर अवैध होर्डिंग्स लगे हुए हैं लेकिन उनमें से कितने अवैध होर्डिंग्स हैं, मनपा के पास यह डेटा नहीं है।
नहीं की जाती कोई कार्रवाई
ठाणे मनपा के विज्ञापन विभाग की ओर से नोटिस भी जारी किया जाता है और स्ट्रक्चरल ऑडिट भी किया जाता है, लेकिन कार्रवाई कभी नहीं होती है। बड़े आकार के होर्डिंग्स के संबंध में अंतरिम नोटिस जारी किए गए थे, लेकिन उससे आगे कोई कार्रवाई नहीं की गई।
हादसा हुआ तो क्या होगा?
कापुरबावड़ी पुल पर खतरनाक इमारत के पास एक बड़ा होर्डिंग भी लगा हुआ है। मेट्रो ने इस होर्डिंग को हटाने के लिए मनपा को पत्र लिखा है, लेकिन अभी तक इसे न हटाए जाने से मेट्रो का काम भी रुका हुआ है। इस होर्डिंग के नीचे सुबह, दोपहर और शाम को ट्रैफिक जाम रहता है। ऐसे में अगर यह होर्डिंग गिरती है तो बड़ी संख्या में जान-माल के नुकसान होने की आशंका है।
एक हफ्ते में रिपोर्ट सौंपने का आदेश 
ठाणे मनपा को होर्डिंग से सालाना १३ करोड़ रुपए की आय होती है। होर्डिंग्स कंपनी के मालिकों की बैठक में उन्हें नियमों का पालन करने और स्ट्रक्चरल ऑडिट का निर्देश दिया गया है। उन्हें अगले आठ दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने का भी आदेश दिया गया है।
– प्रशांत रोडे, अतिरिक्त आयुक्त, ठाणे मनपा

अन्य समाचार