मुख्यपृष्ठनए समाचार‘गोरखपुर’ पर मचा घमासान! रविकिशन और विनोद तिवारी में शीर्षक को लेकर...

‘गोरखपुर’ पर मचा घमासान! रविकिशन और विनोद तिवारी में शीर्षक को लेकर संघर्ष

सामना संवाददाता / मुंबई
एक फिल्म के शीर्षक पर दावे को लेकर दो फिल्मी हस्तियों में संघर्ष छिड़ गया है। इस फिल्म का नाम ‘गोरखपुर’ है। कुछ साल पहले निर्देशक विनोद तिवारी ने यह शीर्षक रजिस्टर्ड करवाते हुए फिल्म बनाने की घोषणा की थी। अब गोरखपुर के सांसद और फिल्म अभिनेता रविकिशन ने इस शीर्षक पर अपना दावा ठोक दिया है। रविकिशन ने अपने इंस्टाग्राम पर इस फिल्म से जुड़ा एक पोस्टर भी शेयर किया है, जिसमें वे बढ़ी हुई दाढ़ी-मूंछों के साथ गले में रुद्राक्ष की माला पहने एक साधु की भूमिका में नजर आ रहे हैं।
निर्देशक विनोद तिवारी की फिल्म का नाम ‘जिला गोरखपुर’ है। उन्होंने २०१८ में जब इस फिल्म का पोस्टर जारी किया था तो यूपी में इसकी काफी तीखी प्रतिक्रिया हुई थी और मेरठ में शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। अब रविकिशन की फिल्म का पोस्टर सामने आने के बाद विनोद तिवारी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि उनकी फिल्म के शीर्षक को चुराया गया है। विनोद इस बारे में कहते हैं, ‘२०१६ में मैंने एक फिल्म अनाउंस की थी, जिसका नाम था ‘जिला गोरखपुर’। १० दिन पहले मुझे मालूम हुआ है कि रविकिशन भी गोरखपुर पर कोई फिल्म बना रहे हैं। उन्हें यह शीर्षक ‘इम्पा’ दे ही नहीं सकता है क्योंकि इस शीर्षक का कॉपीराइट मेरे पास है। मैंने इम्पा के जरिए लेटर इश्यू करवाया है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने रविकिशन जी को भी पर्सनल मैसेज किया है और उनसे टाइटल को लेकर सवाल किए हैं। देखिए, पर्सनल तौर पर मैंने इस प्रॉजेक्ट पर बहुत मेहनत की है। मेरा काम खत्म होने के करीब है, उस पर रवि जी का यह प्रॉजेक्ट अनाउंसमेंट मेरे लिए शॉकिंग है। अभी जब मैंने इंस्टा पर उनका पोस्टर देखा तो बिल्कुल मेरी फिल्म के पोस्टर की तरह है। मैंने ६ साल पहले ही अपनी फिल्म के टाइटिल का कॉपीराइट करवा लिया है। हिंदी के साथ-साथ भोजपुरी लैंग्वेज में मेरा अधिकार है। इम्पा ने रवि जी के नाम पर ही नोटिस जारी किया है। दूसरी तरफ पोस्टर के कॉपीराइट विवाद पर रविकिशन कहते हैं, ‘अच्छा.. पता कर लेंगे। अगर कुछ ऐसा है, तो हम उनसे रिक्वेस्ट कर यह टाइटिल ले लेंगे। अगर उनके नाम पर रजिस्टर है, तो इस पर उनसे बात की जाएगी।’

अन्य समाचार