मुख्यपृष्ठनए समाचारगुजरात से आई थी RBI उड़ाने की धमकी! ...मुंबई पुलिस ने वड़ोदरा...

गुजरात से आई थी RBI उड़ाने की धमकी! …मुंबई पुलिस ने वड़ोदरा से एक शख्स को किया गिरफ्तार

• दो अन्य को भी हिरासत में लिया गया, पूछताछ जारी
सामना संवाददाता / मुंबई
आरबीआई उड़ाने की जो धमकी मिली थी, वह गुजरात से आई थी। मुंबई पुलिस ने इस सिलसिले में गुजरात के एक शख्स को गिरफ्तार किया है। इस सिलसिले में गुजरात से दो अन्य को हिरासत में लिए जाने की खबर है। इस तरह अभी तक तीन लोग पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं और पुलिस सूत्रों के अनुसार, ये तीनों एक दूसरे के रिश्तेदार हैं।
गौरतलब है कि आरबीआई, एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक को बम से उड़ाने की ईमेल भेजकर धमकी दी गई थी। इस आरोप में मुंबई क्राइम ब्रांच ने पहले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था। मुंबई पुलिस के मुताबिक, शख्स को गुजरात के वडोदरा से पकड़ा गया। पुलिस धमकी भरे ईमेल भेजने के पीछे के मकसद का पता लगाने के लिए आरोपियों से पूछताछ कर रही है। इसके अतिरिक्त सूत्रों से पता चला कि इस घटना के संबंध में पुलिस ने दो और व्यक्तियों को हिरासत में लिया है। बता दें कि एक दिन पहले, आरबीआई को एक धमकी भरा ईमेल मिलने के बाद दहशत फैल गई थी, जिसमें कहा गया था कि बैंकों के परिसर में कई बम रखे गए हैं। ईमेल धमकी में मुंबई स्थित एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक परिसर में बम रखे जाने की भी जानकारी दी गई थी। धमकी भरे ईमेल भेजने वाले ने आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के इस्तीफे की भी मांग की थी। रिपोर्ट के अनुसार, आरोपी के ईमेल में कहा गया है, ‘हमने मुंबई के विभिन्न स्थानों पर ११ अलग-अलग बम लगाए हैं। आरबीआई ने निजी क्षेत्र के बैंकों के साथ मिलकर भारत में सबसे बड़े घोटाले को अंजाम दिया है। यह घोटाला इसमें आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, कुछ शीर्ष वित्त अधिकारी और भारत के कुछ प्रसिद्ध मंत्री शामिल हैं। हमारे पास इसके लिए पर्याप्त सबूत हैं। हम मांग करते हैं कि आरबीआई गवर्नर और वित्त मंत्री दोनों तुरंत अपने पदों से इस्तीफा दें और घोटाले का पूरा खुलासा करते हुए एक प्रेस बयान जारी करें। हम यह भी मांग करते हैं कि सरकार दोनों को और घोटाले में शामिल सभी लोगों को सजा दे।

अन्य समाचार