मुख्यपृष्ठनए समाचार'गांधी' परिवार से की गद्दारी! ...तीन साल पुराने नौकर ने तोड़ा विश्वास

‘गांधी’ परिवार से की गद्दारी! …तीन साल पुराने नौकर ने तोड़ा विश्वास

• ४७ लाख के गहने नकदी चुराकर हुआ चंपत
• भुसावल में ट्रेन से पुलिस ने दबोचा

जितेंद्र मल्लाह / मुंबई

खार-पश्चिम के ११ वां रास्ता स्थित मेफेयर इमारत में रहनेवाले गांधी परिवार को नौकर पर विश्वास करना भारी पड़ गया। तीन साल पुराने नौकर ने जल्द अमीर बनने के लालच में उनका विश्वास तोड़ दिया। नौकर घर में रखे करीब ४७ लाख रुपए के गहने और रुपए चुराकर घर से चंपत हो गया। हालांकि खार पुलिस ने सूझबूझ और तत्परता से उसे बिहार स्थित गांव भागने के दौरान भुसावल स्टेशन पर ट्रेन से दबोच लिया और लूट का पूरा माल बरामद कर लिया।
बता दें कि बिहार के मधुबनी जिले का रहनेवाला २४ वर्षीय राजू कामत गांधी परिवार के यहां करीब तीन साल से नौकर के रूप में काम कर रहा था। पिछले दिनों गांधी परिवार पारिवारिक समारोह के लिए उदयपुर गया था। उस दौरान उन्होंने घर संभालने की जिम्मेदारी राजू को सौंपी थी। घर में अकेले रहने से राजू की नीयत बिगड़ गई। उसने पूरा घर खंगाल डाला और ड्रिल मशीन की मदद से घर में मौजूद लोहे की आलमारी का दरवाजा काटकर सोने-चांदी के आभूषण और नगदी समेटकर चंपत हो गया।

फोन नहीं उठाया तो हुआ शक

गांधी परिवार के सदस्यों ने रोज की तरह राजू को फोन किया लेकिन उसका फोन बंद था। उनके कई बार प्रयास के बाद भी जब राजू से संपर्क नहीं हुआ तो गांधी परिवार के सदस्यों को गड़बड़ी का शक हो गया। वे तुरंत मुंबई के लिए रवाना हो गए। मुंबई पहुंचने पर घर की हालत देखने के बाद वे खार पुलिस थाने पहुंच गए। २१ अगस्त को राजू के खिलाफ शिकायत दर्ज होने के बाद डीसीपी मंजूनाथ सिंगे तथा खार पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मोहन माने के मार्गदर्शन व पीआई (क्राइम) संदीप पाटील के नेतृत्व में पीएसआई स्वप्निल घाट, हनमंत कुंभारे और उनकी टीम ने इमारत में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेजों को खंगाला। एक कैमरे में राजू दो बैग के साथ जाता नजर आया।

एक बार फोन ऑन करके फंस गया राजू

पुलिस ने राजू के इमारत से निकलने के समय के आसपास मुंबई से बिहार जानेवाली ट्रेनों के बारे में जानकारी जुटाई और राजू के फोन की लोकेशन की जांच की। ट्रेन में सवार होने के बाद राजू ने एक बार अपना फोन ऑन किया था, इससे पुलिस ने अनुमान लगाया कि राजू एलटीटी से २२५६४ जयनगर एक्सप्रेस ट्रेन से बिहार रवाना हुआ होगा। खार पुलिस ने राजू की सीसीटीवी फुटेज और ट्रेन की जानकारी तुरंत भुसावल रेल पुलिस को भेज दी। इसके बाद भुसावल स्टेशन पर रेलवे पुलिस ने जयनगर एक्सप्रेस ट्रेन की जांच की तो राजू उन्हें मिल गया। उसके पास ८३४ ग्राम सोने और दो किलो चांदी के आभूषण के साथ ३,८२,१०० रुपए भी बरामद हुए। भुसावल रेल पुलिस ने चोरी के ‘माल’ के साथ राजू को खार पुलिस को सौंप दिया। कोर्ट ने उसे २५ अगस्त तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है।

अन्य समाचार