मुख्यपृष्ठनए समाचारघर से प्रेमी संग भागी प्रेमिका .... मोहब्बत में बदनाम हो गया...

घर से प्रेमी संग भागी प्रेमिका …. मोहब्बत में बदनाम हो गया ‘टाइगर’!

सामना संवाददाता / बहराइच
प्रेमी-प्रेमिका के चक्कर में घर वाले और नाते-रिश्तेदारों को बदनाम होते तो सुना होगा। लेकिन यहां इंसानों की मोहब्बत के चक्कर में बेचारा बेजुवान जानवर बदनाम हो गया। दरअसल बाघ के उठा ले जाने की आड़ में प्रेमी ने एक किशोरी का अपहरण कर लिया। हमले को दर्शाने के लिए हाथ से बाघ के पंजे के निशान ही नहीं बनाए, बल्कि किशोरी के कपड़ों को फाड़कर कई जगह फेंक दिया था। लड़की के घर वालों को लगा कि उसे जंगल से आया बाघ उठा ले गया है। फिर क्या था आनन-फानन में उसकी खोजबीन शुरू हो गई। डीएफओ की जांच में वन्यजीवों के निशान न होने के बाद पुलिस महकमा हरकत में आया तो मामले का खुलासा हुआ। गलती किसी की थी लेकिन इल्जाम किसी और पर डाल दिया गया।

परिवार के लोगों ने दी थी बाघ की जानकारी
जानकारी के अनुसार यूपी के बहराइच जिले के सुजौली थाना क्षेत्र के एक गांव की १८ वर्षीय किशोरी कल रात घर से लापता हो गई। परिवार के लोगों ने शोर मचाकर बाघ के किशोरी को उठा ले जाने की बात ग्रामीणों से बताई। मामले को लेकर ग्रामीण भी अक्रोशित हो गए। मौके पर वन विभाग की इक्सपर्ट टीम ने जांच की लेकिन खेत में मिले निशान वन्यजीवों के पंजे के नहीं मिले। ग्रामीणों के अड़े रहने पर भी बाघ के हमले के तथ्य सामने नहीं आए। पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने सुजौली पुलिस को घटना का खुलासा किए जाने का निर्देश दिया। थानाध्यक्ष ,उप निरीक्षक और महिला कांस्टेबल की टीम ने तलाश की। थानाध्यक्ष ने बताया कि उसके अपहरण का मुकदमा पिता की शिकायत पर दर्ज कर छापेमारी की तो सतीश के यहां से उसे बरामद किया गया।

तलाश में लगी थी तीन थाने की पुलिस
किशोरी के गायब होने पर वन विभाग, वन एसटीपीएफ के साथ सुजौली, मोतीपुर और मूर्तिहा थाने की पुलिस लगी थी। इसके अलावा ड्रोन से भी निगरानी की गई थी लेकिन सफलता कल रात को मिली।

हर कोशिश हुई नाकाम, अब होगी कार्रवाई
बेजुबान वन्यजीव पर हमले का आरोप लगाने वाले लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। पुलिस के खुलासे के बाद वन महकमा बार-बार ग्रामीणों को विरोध के लिए उकसाने में लगे लोगों की पहचान किया है। इन लोगों पर भी बड़ी कार्रवाई की तैयारी हो रही है।

अन्य समाचार