मुख्यपृष्ठनए समाचारतिलक नगर टू एलटीटी समस्याएं हजार! ... लंबी दूरी के यात्री हो...

तिलक नगर टू एलटीटी समस्याएं हजार! … लंबी दूरी के यात्री हो रहे परेशान

सामना संवाददाता / मुंबई
उपनगरीय यात्रियों और लंबी दूरी के यात्रियों को जोड़नेवाला एक मुख्य केंद्र लोकमान्य तिलक नगर स्टेशन, मुंबई के सबर्बन नेटवर्क में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका के बावजूद बेसिक इन्प्रâास्ट्रक्चर की चुनौतियों से जूझ रहा है। इस स्टेशन पर औसतन प्रतिदिन ३०,००० के करीब लोगों की आवाजाही और लगभग ५० लाख रुपए की मासिक टिकट बिक्री वाला यह स्टेशन एक महत्वपूर्ण केंद्र के रूप में खड़ा है।
यात्रियों द्वारा व्यक्त की गई शिकायतों में से एक तिलक नगर और एलटीटी के बीच लगभग ३०० मीटर तक फैले कनेक्टिंग मार्ग की दयनीय स्थिति है। यह मार्ग विशेष रूप से ट्रॉली बैग के साथ यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए आवश्यक है, जो खराब और ऊबड़-खाबड़ हालत में है, जिससे यात्रा करना कठिन हो जाता है। यात्रियों ने आवागमन में आसानी की कमी पर दुख जताया, बिना किसी दिक्कत से यात्रा करने के लिए नवीनीकरण की सख्त जरूरत पर प्रकाश डाला। कुर्ला छोर पर एस्केलेटर लगाने का काम जारी है। हालांकि, यात्री रेलवे के कार्य की धीमी गति पर असंतोष व्यक्त कर रहे हैं, जिससे असुविधा हो रही है। इसके अलावा, प्लेटफॉर्म एक के बाहर की स्थिति खराब बनी हुई है और पनवेल की तरफ लिफ्ट होने के बावजूद, एस्केलेटर की अनुपस्थिति यात्रियों के लिए चुनौती बन रही है। खासकर उन लोगों के लिए जो स्टेशन पर चलते समय ट्रॉली बैग लेकर चलते हैं।

सुरक्षा को लेकर सचेत हो मध्य रेलवे
इसके अलावा स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था खासकर कुर्ला छोर पर अच्छी नहीं है। इस क्षेत्र में अक्सर असामाजिक तत्वों के एकत्र होते हैं, जो यात्रियों के लिए संभावित जोखिम पैदा करते हैं। इन तत्वों की उपस्थिति न केवल यात्रियों के बीच बेचैनी की भावना को बढ़ावा देती है, बल्कि उनकी सुरक्षा को भी खतरे में डालती है, जिससे चौबीसों घंटे स्टेशन परिसर की सुरक्षा के लिए मजबूत सुरक्षा उपायों की आवश्यकता होती है।

तिलक नगर स्टेशन से टर्मिनस जाने पर चलने में कठिनाई होती है, खासकर ट्रॉली बैग के साथ, जिससे रोजाना सैकड़ों यात्रियों का यात्रा अनुभव खराब हो जाता है।
– कन्हैया सिंह, यात्रा- बांद्रा
भारी सामान के साथ पनवेल छोर तक काफी दूरी तय करने या कुर्ला छोर पर फुट ओवरब्रिज पर सीढ़ियां चढ़ने की असुविधा काफी दिनों से है, जिससे अतिरिक्त लिफ्ट्स और एस्केलेटरों की आवश्यकता का पता चलता है, खासकर कुर्ला छोर पर।

– सीमा अड़े, यात्री- वाशी
तिलक नगर स्टेशन जो उपनगरीय और लंबी दूरी के स्टेशन एलटीटी को जोड़ता है। हालांकि, मौजूदा बेसिक इन्प्रâास्ट्रक्चर की कमियों और सुरक्षा चिंताओं को जल्द से जल्द हल किया जाना चाहिए। कई प्रांत से लोग आते है, इस तरीके का इंप्रâास्ट्रक्चर मुंबई की छवि धूमिल करता है।
– शरद जोशी, यात्री- खार

अन्य समाचार