मुख्यपृष्ठनए समाचारट्रैफिक का टेंशन खत्म! कोरा केंद्र उड़ानपुल शुरू...पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के...

ट्रैफिक का टेंशन खत्म! कोरा केंद्र उड़ानपुल शुरू…पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के हाथों हुआ लोकार्पण

सामना संवाददाता / मुंबई
बोरीवली, ‘एसवी’ रोड के साथ ही उस क्षेत्र की ट्रैफिक समस्या को खत्म करने में अहम भूमिका निभानेवाले आर.एम. भट्टड मार्ग पर स्थित कोरा केंद्र  उड़ान पुल कल से मुंबईकरों की सेवा में शामिल कर दिया गया। चार लेनवाले सुरक्षित, मजबूत और आकर्षक रोशनी से सराबोर इस पुल के निर्माण पर मनपा ने १७३ करोड़ रुपए खर्च किए हैं। इस उड़ान पुल का लोकार्पण कल पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के हाथों हुआ।
मुंबईकरों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मनपा के माध्यम से शहर में स्थित सभी पुलों का स्ट्रक्चरल ऑडिट कर आवश्यकतानुसार उनकी मरम्मत करने के साथ ही नए पुल का निर्माण किया जा रहा है। इसमें बोरीवली (प.) स्थित कोरा केंद्र  स्थित उड़ान पुल भी शामिल था। फिलहाल यह पुल अब बनकर तैयार है। इस पुल से लिंक रोड से होते हुए सीधे पश्चिम महामार्ग पर आसानी से पहुंचा जा सकेगा। ये उड़ान पुल श्यामा प्रसाद मुखर्जी चौक, कल्पना चावला चौक, साईबाबा नगर, राजेंद्र नगर और आसपास के परिसरों में व्याप्त ट्रैफिक समस्या को दूर करने में काफी मददगार साबित होगा। स्वामी विवेकानंद मार्ग और कल्पना चावला इन दो महत्वपूर्ण जंक्शनों तक इस पुल का विस्तार किया गया है। इससे परिवहन की गति बढ़ने से समय की भी बचत होगी। इस पुल के लोकार्पण अवसर पर म्हाडा के सभापति विनोद घोसालकर, सांसद गोपाल शेट्टी, विधायक विलास पोतनीस, प्रकाश सुर्वे, सुनील राणे, मनीषा चौधरी, अतिरिक्त आयुक्त पी. वेलरासु, पूर्व नगरसेविका संध्या दोशी, संजय घाडी, उपायुक्त भाग्यश्री कापसे, उपायुक्त उल्हास महाले, पुल के प्रमुख इंजीनियर सतीश ठोसरे, इंजीनियर अशोक मिस्त्री, सहायक आयुक्त जावेद वकार आदि गणमान्य उपस्थित थे।
लिंक रोड से बोरीवली सुपरफास्ट
आर.एम. भट्टड मार्ग में बोरीवली (प.) स्थित लिंक रोड से फिल्ड मार्शल करियप्पा फ्लाईओवर तक निर्मित यह उड़ान पुल प्रमुख रूप से लिंक रोड और पश्चिम महामार्ग को जोड़नेवाला मुख्य मार्ग है। इससे लिंक रोड से बोरीवली तक यातायात में तेजी आएगी।
भाजपा की श्रेय लेने की कोशिश नाकाम
कोरा वेंâद्र पुल के निर्माण के लिए शिवसेना के माध्यम से नियमित फॉलोअप किए जाने से इसके रफ्तार के साथ समय पर पूरा करने में मदद मिली है। ऐसे में कल भाजपा की तरफ से पुल निर्माण को लेकर श्रेय लेने के लिए स्थानीय सांसद और विधायक के नामों सहित पोस्टरबाजी की गई। हालांकि, शिवसेना ने भी इसका करार जबाव दिया। शिवसेना ने भी पोस्टर और भगवा झंडा लहराते हुए नारेबाजी की। इससे भाजपा की श्रेय लेने की कोशिश नाकाम रही।
वाहनों को फिसलने से रोकेगी नई तकनीक
यह पुल करीब ९३७ मीटर लंबा है।  कंपोसिट सेक्शन तकनीक का उपयोग कर और एक स्तंभ पद्धति से तैयार किए गए इस उड़ान पुल में १३,३४७ क्यूबिक मीटर  कंक्रीट, २,९०० मीट्रिक टन रीइन्फोर्समेंट स्टील और ४,१८६ स्ट्रक्चरल स्टील का इस्तेमाल किया गया है। इसके अलावा एंटीस्किड सरफेसिंग  तकनीक का उपयोग कर बनी सतह वाहनों विशेष रूप से बाइक को फिसलने से रोकेगी।

अन्य समाचार