" /> ट्रिपल मर्डर से दहला लखनऊ!

ट्रिपल मर्डर से दहला लखनऊ!

राजधानी में हुुये ट्रिपल मर्डर के बाद विपक्ष का आरोप सच साबित होता जा रहा है कि “उत्तर प्रदेश में अपराधी पुलिस के सर पर चढ़कर तांडव कर रहें हैं। इधर पुलिस, मुठभेड़ में बदमाशों को पकड़ने का रोज दावा कर रहीं वहीं धरातल पर बदमाशों को पुलिस का कोई खौफ नहीं दिख रहा है। ताजा मामला राजधानी लखनऊ का है, जहाँ ट्रिपल मर्डर से फिर एक बार कमिश्नरी पुलिस कटघरे में खड़ी नजर आ रही है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक लखनऊ के निगोंहा थाना क्षेत्र अंतर्गत घर में सो रहे बुजुर्ग दंपत्ती की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। वहीं कुछ दूरी पर ही 55वर्षीय गार्ड का भी शव बरामद हुआ है। बता दें कि निगोंहा थाना क्षेत्र अंतर्गत राती गांव के रहने वाले 70वर्षीय रामसनेही और उनकी 65वर्षीय पत्नी रामजानकी तीन साल से निगोंहा-नगराम मोड़ पर उदयपुर में रह रहे थे। दंपती के तीन पुत्र है, पहले पुत्र मूलचन्द्र दिल्ली में और दो बेटे राम नरायन और लक्ष्मी नरायन राती में रहते हैं। गुरुवार दोपहर नाती विनय फल लेकर जब घर आया तो देखा कि उसके बाबा-दादी का शव पड़ा है। राम सनेही का शव बिस्तर पर और राम जानकी का शव नीचे पड़ा जमीन पर पड़ा है। बुजुर्ग दंपत्ती की हत्या ईट से कूचकर की गई थी। मृतकों के नाती विनय ने इसकी जानकारी परिवार को दी। बताया जा रहा है कि सोमवार की शाम को रामनारायण अपने माता-पिता से मिलने गए थे। उन्होंने बताया कि बुधवार शाम को फोन पर बात करने की कोशिश की तो पिता का मोबाइल फोन बंद मिला। पुलिस परिवार के सदस्यों और आसपास के लोगों से पूछताछ कर रही है। पुलिस घटना के पीछे लूट, लेन देन और संपत्ति विवाद समेत अन्य बिंदुओं पर छानबीन कर रही है। वही 50 मीटर दूर पर ईट से कूचा शव बन्द पड़े शोरूम के नीचे 55वर्षीय चौकीदार शत्रुघन का मिला है। पुलिस का कहना है कि चौकीदार का शव तीन दिन पुराना है। मौके पर पुलिस विभाग के आलाधिकारी व फॉरेंसिक टीम के साथ मौजूद रही। आश्चर्य की बात यह है कि बुजुर्ग महिला का शव नग्न अवस्था में मिला है। पुलिस भी नहीं समझ पा रही है कि हत्या का कारण क्या हो सकता है?फिलहाल शव पंचनामा करा के पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया है। फॉरेंसिक टीम अपना काम कर रही है। हो सकता है कि पोस्टमार्टम और फॉरेंसिक रिपोर्ट के बाद ही अपराधियों तक पहुंचने का मार्ग मिल जाय।