मुख्यपृष्ठनए समाचारटीवी चैनलों के लिए जेब ज्यादा करनी पड़ेगी ढीली ...बुद्धू बक्से में...

टीवी चैनलों के लिए जेब ज्यादा करनी पड़ेगी ढीली …बुद्धू बक्से में भी फूटा ‘महंगाई बम’!

अब घर का मनोरंजन भी हुआ महंगा
प्रमुख चैनलों ने शुल्क बढ़ाए
सत्ता में आने से पहले नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में इस बात का प्रचार किया था कि अच्छे दिन आनेवाले हैं। २०१४ में नरेंद्र मोदी पीएम बन गए और तब से देश की जनता अच्छे दिनों के आने का इंतजार ही कर रही है। इस बात को ९ साल से ज्यादा हो गए और अब एक बार फिर चुनाव के चौराहे पर देश की जनता खड़ी है। अब इस दौरान अच्छे दिन तो नहीं आए पर देश की जनता महंगाई की मार से त्रस्त हो गई। खाने-पीने से लेकर कपड़ा मकान तक हर चीज महंगी हो चुकी है। अब आम आदमी का मनोरंजन का सबसे सस्ता साधन बुद्धू बक्से यानी टीवी चैनल पर बी महंगाई का बम फूटा है। अब घर में बैठकर प्रमुख मनोरंजन चैनलों को देखना महंगा हो जाएगा। इसका कारण है कि इन चैनलों ने अपने शुल्क बढ़ाने की घोषणा की है।
जी एंटरटेनमेंट, वायाकॉम १८ और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया जैसे देश के टॉप ब्रॉडकास्टर्स ने आम लोगों को बड़ा झटका दिया है। इन तमाम ब्रॉडकास्टर्स ने बढ़ते कंटेंट खर्चों की भरपाई के लिए टीवी चैनलों की कीमतों में इजाफा कर दिया है, जिससे उपभोक्ताओं के मासिक बिल में इजाफा हो जाएगा। नेटवर्क१८ और वायाकॉम१८ की इंडियाकास्ट ने अपने चैनल्स की कीमत में २०-२५ फीसदी का इजाफा कर दिया है। जी ने १० फीसदी की बढ़ोतरी कर दी है। सोनी ने भी १०-११ फीसदी का इजाफा किया है। डिज्नी स्टार ने अभी तक अपने प्राइस का खुलासा नहीं किया है। ब्रॉडकास्टर्स ने कहा है कि नई कीमत १ फरवरी से लागू होगी। रेगुलेशन में कहा गया है कि वे रेफरेंस इंटरकनेक्ट ऑफर (आरआईओ) के पब्लिकेशन के ३० दिनों बाद नई कीमत लागू कर सकते हैं।
२०२४ चुनावी वर्ष होने के कारण, दूरसंचार नियामक प्राधिकरण यानी ट्राई उपभोक्ताओं की नाराजगी को रोकने के लिए ब्रॉडकास्टर रेट कार्ड की सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहा है। नवंबर २०२२ में ट्राई द्वारा एनटीओ ३.० के लागू होने के बाद ब्रॉडकास्टर्स ने दूसरी बार अपनी कीमतें बढ़ाई हैं।

अन्य समाचार