मुख्यपृष्ठनए समाचारसर्किल के दो स्थानों पर हुई मुठभेड़ में दो कुख्यात बदमाश को...

सर्किल के दो स्थानों पर हुई मुठभेड़ में दो कुख्यात बदमाश को लगी गोली

सामना संवाददाता / जौनपुर

शाहगंज सर्किल के खुटहन और सरपतहा में शुक्रवार की बीती रात्रि अलग-अलग समय में पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन में दो अंतर्जनपदीय कुख्यात बदमाश पुलिस के शिकंजे में आ गए। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दोनों को पैर में गोली गली। पुलिस ने पीएचसी पर प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल भेज दिया। उन लोगों के पास से प्रयुक्त असलहा, जिंदा कारतूस और नकदी बरामद हुई है। दोनों कुख्यात बदमाश आजमगढ़, अमेठी, गोरखपुर, फतेहपुर, जौनपुर, उन्नाव, प्रयागराज और बाराबंकी में गोतस्करी, लूट, हत्या, हत्या का प्रयास, अपरहण के अपराध में लम्बे समय से सक्रिय हैं। पुलिस आवश्यक कार्रवाई में जुटी रही।
सीओ शाहगंज शुभम तोदी ने बताया कि शुक्रवार की देर शाम क़रीब 11:50 बजे खुटहन के सुइथाखुर्द नहर पुलिया से दो सौ मीटर दूरी पर खेतासराय और खुटहन पुलिस संयुक्त चेकिंग कर रहे थे। पुलिस के अनुसार, दो संदिग्ध आते दिखाई दिए। पुलिस ने रोकने का इशारा किया तो फायर झोंक दिया। जवाबी कार्रवाई में एक बदमाश को गोली लगी। उसकी पहचान रोहित यादव पुत्र लालबहादुर यादव निवासी कोंहड़ा थाना कोतवाली शाहगंज के रूप में हुई। जबकि दूसरा साथी अंधेरा का फायदा उठाकर भाग निकला। उस पर विभिन्न जनपदों में कुल चौदह आपराधिक मामले दर्ज हैं। उनके पास से एक तमंचा, कारतूस व नकदी 1,560 रुपया बरामद हुआ।
वहीं सरपतहा में बीती रात्रि थाना क्षेत्र के गड़बड़ी चौराहे पर शाहगंज कोतवाली पुलिस की संयुक्त ऑपरेशन में कुख्यात व पचीस हजार का ईनामी बदमाश रामबुझ यादव को भी पैर में गोली लगी। उसे उपचार के लिए जिले अस्पताल भेजा। पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार बदमाश ने बताया कि अभी कुछ देर पहले हुई मुठभेड़ में मेरा एक साथ पुलिस के शिकंजे में आ गया था, मैं वहां से निकला, लेकिन यहां गिरफ्त में आ गया। उसके पास से असलहा, कारतूस समेत 1,460 रुपया बरामद हुआ है। वह भी शाहगंज कोतवाली क्षेत्र का कोहड़ा निवासी है। उस पर कुल आठ संगीन मामले दर्ज हैं।
शाहगंज के सीओ शुभम तोदी ने बताया कि सर्किल के दो थाना क्षेत्र में दो कुख्यात बदमाश एनकाउंटर में गिरफ्तार हुए है, उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है । वे लोग पशुतस्करी, हत्या, हत्या का प्रयास लूट के जरायम में कुख्यात है । उसका भी आपराधिक दायरा गोरखपुर, उन्नाव, अमेठी, आजमगढ़ समेत अन्य जनपदों में रहा।

अन्य समाचार