मुख्यपृष्ठसमाचार`चाचा' नहीं मानेंगे दोबारा!...शिवपाल को पसंद आ रही है भाजपा

`चाचा’ नहीं मानेंगे दोबारा!…शिवपाल को पसंद आ रही है भाजपा

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ । यूपी विधानसभा चुनाव के बाद चाचा-भतीजे की नाराजगी एक बार फिर खुलकर सामने आ गई है। शिवपाल सिंह यादव के एक कदम ने सियासी चर्चाओं को तेज कर दिया है। हाल ही में शिवपाल सिंह यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की थी। इसके बाद शिवपाल के भाजपा में जाने की चर्चाएं शुरू हो गई थीं। अब शिवपाल सिंह ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा को फॉलो किया है।
सोशल मीडिया पर शिवपाल
पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव ट्विटर पर भी सक्रिय रहते हैं। अमूमन रोज उनके ट्वीट्स आते हैं। हालांकि ट्विटर पर वो महज १२ लोगों को फॉलो करते हैं। इसमें राहुल गांधी और अखिलेश यादव भी शामिल हैं। ट्विटर पर शिवपाल के ८ लाख ९४ हजार फॉलोअर्स हैं।
अखिलेश से नाराज हैं शिवपाल
शिवपाल सिंह यादव को अखिलेश यादव ने सपा विधायक दल की बैठक में नहीं बुलाया था। इससे नाराज होकर शिवपाल पहले इटावा गए और उसके बाद दिल्ली चले गए। सवाल पूछे जाने पर शिवपाल ने कहा कि वह फोन का इंतजार करते रहे, लेकिन मुझे नहीं बुलाया गया। इसके बाद जब अखिलेश ने सहयोगी दलों के नेताओं की बैठक बुलाई तो उसमें शिवपाल नहीं गए, बल्कि उन्होंने दिल्ली जाकर मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की।
भाजपा के संपर्क में शिवपाल
जानकारी के अनुसार शिवपाल सिंह लगातार भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और जल्द ही वो भी अपनी बहू अपर्णा यादव की तरह भाजपा में जा सकते हैं। असल में शिवपाल नेता विरोधी दल बनना चाहते थे लेकिन आजमगढ़ के सांसद पद से इस्तीफा देकर अखिलेश खुद नेता विरोधी दल बन गए।

अन्य समाचार