मुख्यपृष्ठसमाचार`अंडर वियर' ने बढ़ाया मंत्री का टेंशन! विपक्ष ने की इस्तीफे की...

`अंडर वियर’ ने बढ़ाया मंत्री का टेंशन! विपक्ष ने की इस्तीफे की मांग

सामना संवाददाता / तिरुवनंतपुरम
नशीली दवाओं की तस्करी के एक मामले में नीले रंग के अंडरवियर ने केरल के परिवहन मंत्री एंटनी राजू को ३२ साल बाद फिर से मुश्किल में डाल दिया है। विपक्ष ने परिवहन मंत्री एंटनी राजू से इस्तीफे की मांग की है। इस मामले में आरोपी के वकील एंटनी राजू थे। जनाधिपति केरल कांग्रेस नेता और केरल के सत्तारूढ़ वाम मोर्चा के सहयोगी एंटनी राजू तिरुवनंतपुरम विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।
बता दें कि मादक पदार्थों की तस्करी का यह मामला १९९० का है। एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक एंड्रयू सल्वाटोर सेरवेली को तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे पर अपने अंडरवियर में हशीश छिपाने के लिए पकड़ा गया था। एंटनी राजू उस समय तिरुवनंतपुरम में एक वकील के रूप में प्रैक्टिस कर रहे थे। राजू ने सेरवेली के वकील को लिया था, जो एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक है।
नशीली दवाओं की तस्करी का मामला
ड्रग तस्करी के इस मामले में आरोपी एक ऑस्ट्रेलियाई नागरिक को रिहा कर दिया गया। आरोपी के वकील ने दावा किया कि सबूत के तौर पर दिखाया गया अंडरवियर छोटे आकार का था और आरोपी पर फिट नहीं बैठता था। नशीली दवाओं की तस्करी के मामले में जांच अधिकारी जयमोहन सबूतों के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए उच्च न्यायालय पहुंचे। इसके बाद वंचियूर पुलिस ने १९९४ में तिरुवनंतपुरम में मामला दर्ज किया था। पुलिस जांच में सामने आया कि अदालत के क्लर्क ने एंटनी राजू की मिलीभगत से सबूतों से छेड़छाड़ की। दोनों पर साजिश, सबूतों से छेड़छाड़, धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया था। जांच एजेंसियों ने एंटनी राजू के खिलाफ चार्जशीट भी दाखिल की है। विधानसभा चुनाव से एक महीने पहले २००६ में यह मामला फिर चर्चा में आया।

राजू के खिलाफ कार्रवाई की मांग
पुलिस द्वारा दाखिल चार्जशीट के मुताबिक राजू ने कोर्ट से नीला अंडरवियर समेत सामान इकट्ठा किया और फिर उसका साइज बदलकर वापस कर दिया। एक प्रभारी लिपिक ने रिश्वत लेकर कोर्ट रूम से राजू को अंडरवियर दिया। एंटनी राजू के खिलाफ आरोप गंभीर हैं, इसलिए उन्हें मंत्री के रूप में नहीं रहना चाहिए। एक मंत्री पर सबूतों से छेड़छाड़ का आरोप, ऐसा व्यक्ति कैबिनेट में कैसे रह सकता है? यह सवाल विधानसभा में विपक्ष के नेता वीडी सतीसन ने पूछा था। वहीं भाजपा ने भी राजू के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. हालांकि एंटनी राजू ने स्पष्ट किया है कि वह इस मामले में जमानत पर बाहर हैं और उन्होंने विधानसभा चुनाव लड़ते हुए इस मामले में कुछ भी नहीं छिपाया है।

अन्य समाचार