" /> कोरोना के समय का सदुपयोग…प्रधानमंत्री का विवाह व और कुछ…

कोरोना के समय का सदुपयोग…प्रधानमंत्री का विवाह व और कुछ…

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कोरोना काल में गुपचुप ढंग से तीसरी शादी कर ली। जॉनसन ने समय का सदुपयोग किया। दिल्ली में पीएम के लिए नए मकान का निर्माण हो रहा है। मेहुल चोकसी से प. बंगाल तक नए-नए सियासी खेला में बस समय व्यतीत करने का काम चल रहा है।

कोरोना काल में समय वैâसे व्यतीत किया जाए, यह सवाल दुनियाभर के कई लोगों को सता रहा है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के समक्ष भी उठा होगा। फिर उन्होंने गुपचुप ढंग से अपनी एक और शादी संपन्न कर ली। जॉनसन ५६ साल के हैं। केरी साइमंड्स नामक युवती से वह डेढ़ साल पहले डाइनिंग स्ट्रीट कार्यालय में मिले थे। केरी, जॉनसन से २३ साल छोटी हैं। जॉनसन ने इस युवती से गुप्त रूप से शादी कर ली। कोरोना काल में समय नहीं बीतता होगा तो शासकों को क्या करना चाहिए, इस पर ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने सक्रिय मार्गदर्शन दिया है। सौभाग्य से डोनाल्ड ट्रंप वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं हैं। उन्होंने समय व्यतीत करने के लिए क्या किया होता, पता नहीं। जॉनसन की यह तीसरी शादी है। ब्रिटेन में अगर कोरोना नियंत्रण में नहीं आया तो जॉनसन टाइम पास करने के लिए चौथी और पांचवीं बार भी दूल्हा बन जाएंगे।
वहां शादी यहां घर
कोरोना काल के दौरान यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री ने कोरोना काल में समय नहीं बीतता होगा, इसलिए तीसरी शादी कर ली। दिल्ली में कोरोना काल में नया संसद भवन, प्रधानमंत्री के लिए १५ एकड़ का नया घर और उपराष्ट्रपति का नया आवास बन रहा है। ये नए घर कोरोना वायरस प्रूफ हैं क्या, केंद्र सरकार इसका जवाब दे। वर्तमान में, हमारे प्रधानमंत्री ७, लोक कल्याणकारी मार्ग पर १३ एकड़ के विशाल आवास में रह रहे हैं। नई योजना के तहत वे १५ एकड़ के घर में जाएंगे। प्रधानमंत्री खुद को फकीर मानते हैं, लेकिन ये सभी शरारतें एक फकीर की श्रेणी में फिट नहीं बैठती हैं, ऐसी आलोचना शुरू हो गई है। जॉनसन ने शादी की। हमारे शासकों ने घर बनाए। लोगों को क्या मिला? कोरोना की वजह से ९७ फीसदी आबादी गरीबी के कगार पर है। अप्रैल, २०२० में १३ करोड़ लोगों की नौकरी छिन गई। लोगों की सुरक्षित समझी जानेवाली नौकरी भी चली गई। सब कुछ बंद है। केवल श्मशान और कब्रिस्तान चौबीस घंटे खुले रहते हैं। इंग्लैंड और भारत की स्थिति अलग नहीं है।
मेहुल चोकसी!
मेहुल चोकसी का मामला फिलहाल तूल पकड़ रहा है। पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपियों में से वह एक है। उस समय विश्व हीरा बाजार में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी का एक प्रभाव था। बैंक के १२ हजार करोड़ रुपए डुबाकर वह विदेश भाग गया था। एंटीगुआ नामक देश की नागरिकता लेकर चोकसी वहां रहने लगा। एंटीगुआ जैसे कई देशों में नागरिकता और पासपोर्ट खरीदे जा सकते हैं। चोकसी उसी तरह उस देश का नागरिक बन गया। आठ-पंद्रह दिन पहले वह डोमिनिका नामक देश में घुसपैठ करते पकड़ा गया था। फिलहाल वह डोमिनिका की जेल से एक सरकारी अस्पताल में भर्ती हुआ है। मेहुल चोकसी का दावा है कि हिंदुस्थानी गुप्तचरों ने उसका अपहरण कर लिया और उसे हिरासत में ले लिया था। मेहुल चोकसी एंटीगुआ का नागरिक है इसलिए उसे हिंदुस्थान को नहीं सौंपा जा सकता, ऐसा चोकसी के वकीलों का कहना है। चोकसी के प्रत्यर्पण की कानूनी प्रक्रिया पूरी होने से पहले हिंदुस्थान का एक निजी जेट विमान डोमिनिका एयरपोर्ट पर उतरा और वहां रुका रहा। चोकसी को लाने के लिए ही यह खास विमान भेजा था, लेकिन क्या चोकसी हिंदुस्थान आएगा? एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्र%