मुख्यपृष्ठसमाज-संस्कृतिभारती प्रसार परिषद, मुंबई के ४९ वें स्थापना वर्ष पर दिग्गजों का...

भारती प्रसार परिषद, मुंबई के ४९ वें स्थापना वर्ष पर दिग्गजों का सम्मान

सामना संवाददाता / मुंबई
भारती प्रसार परिषद, मुंबई ने ४९ वें स्थापना वर्ष एवं हिन्दी दिवस माटुंगा-पूर्व स्थित दयानंद बालक बालिका जूनियर कॉलेज सभागार में धूमधाम से मनाया। रश्मि भारती पत्रिका के विमोचन के साथ विभिन्न क्षेत्र के दिग्गजों को पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

अरुणाचल विश्वविद्यालय की चांसलर डॉ सुमन जैन, पूर्व सीमा शुल्क अधीक्षक कैलाश नाथ सिंह व महाराष्ट्र के वरिष्ठ पत्रकार और आरटीआई एक्टिविस्ट अनिल गलगली के हाथों से मां सरस्वती का पूजन व दीप प्रज्ज्वलित करके कार्यक्रम की शुरुआत हुई। सत्यभामा सिंह ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। विशिष्ट अतिथि कैलाश नाथ सिंह की अध्यक्षता में संस्थाध्यक्ष रमेश बहादुर सिंह ने कार्यक्रम का संचालन किया। विनोद कुमार सिंह ने हिंदी प्रतिज्ञा वाचन किया।

अरुणाचल विश्वविद्यालय की डॉ चांसलर सुमन जैन को ३७वें भारती गौरव पुरस्कार -२०२३, प्रेमनारायण दीक्षित को २५ वें ठाकुर शिवगोपाल सिंह पावन स्मृति विशिष्ट शिक्षक गौरव पुरस्कार २०२३, सरफराज गुलाम खान को २४ वें बिंद्रा प्रसाद कानोरिया पावन स्मृति विशिष्ट विद्यार्थी गौरव पुरस्कार २०२३, कैलाश नाथ सिंह को २३ वें स्व पंडित महादेव हंसनाथ मिश्र विशिष्ट समाज सेवी सम्मान २०२३, डॉ रीतू सिंह को २३ वें मां साहेब सुशीला बाबूराव ठोंबरे पावन स्मृति चिकित्सक गौरव पुरस्कार २०२३, आरटीआई एक्टिविस्ट अनिल गलगली को १५ वें श्रीमती रामादेवी द्विवेदी विशिष्ट पत्रकार सम्मान २०२३, रंगबहादुर सिंह को १४ वें विशिष्ट कार्यकर्ता सम्मान २०२३, प्रमिला शर्मा को ६ठे भारती साहित्य युवा सम्मान २०२३, एड. मदन नथू म्हात्रे को ६ठे बाबू श्रीनाथ सिंह विशिष्ट अधिवक्ता सम्मान २०२३ से सम्मानित किया गया।

तत्पश्चात हिंदी कवि सम्मेलन आयोजित हुआ जिसमें कवयित्री डॉ. सुमन जैन, डॉ. कनकलता तिवारी, प्रमिला शर्मा, सत्यभामा सिंह, अन्नपूर्णा गुप्ता, पवन तिवारी (काव्यसंचालक), विनोद कुमार सिंह, शिव कुमार सिंह दुर्गवंश, रघुवीर सिंह आनन्द, बाल कवि अमरेंद्र सिंह ने अपनी काव्य रचनाओं से सभी को आनंदित किया। इस कार्यक्रम में सत्यभामा सिंह की पुस्तक ‘स्पर्श चेतना का’ और शिव कुमार सिंह ‘दुर्गवंश’ द्वारा लिखी ‘‌वंशावली पुराण’ का विमोचन भी हुआ । शायद ऐसा पहली बार है कि एक मंच पर पति पत्नी की पुस्तकों का ‌एक‌ साथ विमोचन हुआ। अंत में अशोक द्विवेदी ने आभार प्रदर्शन किया। संस्था के महामंत्री शिव कुमार सिंह व कोषाध्यक्ष अशोक सिंह ने पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने में अपनी भूमिका निभाई। संस्थाध्यक्ष रमेश बहादुर सिंह की निगरानी में कार्यक्रम सफल हुआ। शुक्ला अंकिता का भी सम्मान किया गया। राष्ट्र गान के बाद कार्यक्रम संपन्न हुआ। राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित वीरेन्द्र कुमार सिंह, उप पुलिस अधीक्षक, मध्य प्रदेश को संस्था ने अपनी तरफ से सम्मान चिह्न प्रदान किया।

इस मौके पर संस्था के विशेष सहयोगी अरूण शुक्ला, संस्था में उपाध्यक्ष अधिवक्ता विजय कानोरिया, अरबिंद मिश्र, संयुक्त मंत्री डॉ भालचंद्र तिवारी, उदयराज जैसवार, शालिनी सिंह, उदय भान सिंह, ब्रजेश सिंह, अखिलेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

अन्य समाचार