जीत हमारी होगी

पक्की जीत हमारी होगी।
यह दुनिया भी प्यारी होगी।।
हवा बहेगी मेहनत वाली।
खेती अपनी सारी होगी।।
सत्य यहां पर राज करेगा।
नैतिकता अधिकारी होगी।।
मानवता का बिगुल बजेगा।
तर्क सभी पर भारी होगी।।
पावन मन उछलेगा हरदम।
भाईचारा जारी होगी।।
सेवा धर्म बनेगा अपना।
लेन देन हितकारी होगी।।
शोषण मुक्त बनेगा भारत।
हरदम पहरेदारी होगी।।
नर नारी सब साथ चलेंगे।
बात यहां सब न्यारी होगी।।
फहरेगा खुशहाल तिरंगा।
देशभक्ति भी प्यारी होगी।।
क्या गाएं क्या कहें आपसे।
निश्चित जीत हमारी होगी।।
हरदम बेहतर साथ पकड़कर।
चलने की तैयारी होगी।।
-अन्वेषी

अन्य समाचार