मुख्यपृष्ठसमाचारबंटी और बबली पर कड़ी नजर... ‘महाशिवप्रसाद’ देने की जोरदार तैयारी!

बंटी और बबली पर कड़ी नजर… ‘महाशिवप्रसाद’ देने की जोरदार तैयारी!

सामना संवाददाता / मुंबई । शिवसैनिकों के श्रद्धास्थल ‘मातोश्री’ आवास के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की चेतावनी देनेवाले सांसद नवनीत राणा और विधायक रवि राणा दंपति के प्रति शिवसैनिकों में काफी रोष हैं। शुक्रवार शाम को ही ‘मातोश्री’ के बाहर शिवसैनिक बड़ी संख्या में जमा हो गए और ‘मातोश्री’ के बाहर पहरा दे रहे हैं। शिवसैनिकों ने राणा दंपति को ‘महाशिवप्रसाद’ देने की जोरदार तैयारी कर ली है। यहां मुंबई के कोने-कोने से हजारों शिवसैनिक पहुंचे हैं। शिवसैनिकों ने खार में राणा दंपति के घर को भी घेर लिया है और उन्हें इससे बाहर नहीं निकलने देंगे, ऐसा एलान किया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार राणा दंपति ने कल सुबह खार स्थित अपने आवास पर प्रेस कॉन्प्रâेंस लेकर बताया था कि शनिवार सुबह नौ बजे ‘मातोश्री’ जाएंगे और हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। राणा दंपति का यह बयान सुनकर शिवसैनिकों में भारी रोष पैदा हो गया। भगवाधारी शिवसैनिकों ने खार में उस इमारत को घेर लिया जहां राणा दंपति ठहरे हुए थे और परिसर में नारेबाजी शुरू कर दी। वहां से हटेंगे नहीं, ऐसी चेतावनी देते हुए शिवसैनिकों ने वहां भजन शुरू कर दिया। शंखनाद भी किया। शिवसैनिकों ने चेतावनी दी कि राणा दंपति को रातभर यहीं रोका जाएगा। उन्हें सुबह घर से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने भी सुरक्षा-व्यवस्था कड़ी कर दी है।
हिम्मत है तो बांद्रा में आकर दिखाओ
‘मातोश्री’ के बाहर कला नगर सड़क पर हजारों की संख्या में महिला एवं पुरुष शिवसैनिक जमा हो गए हैं। शिवसैनिकों ने जोर-जोर से नारेबाजी करते हुए राणा दंपति के स्टंट का जमकर विरोध किया है। साथ ही राणा दंपति को ललकारते हुए कहा कि हिम्मत है तो बांद्रा में आकर दिखाओ, राणा को बांद्रा आने की चुनौती देने वाले हॉर्डिग्स भी जगह-जगह लगाए गए हैं। शिवसैनिकों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि राणा दंपति यहां आए तो उन्हें ऐसा ‘प्रसाद’ देंगे कि वे फिर से शिवसेना की तरफ देखने की हिम्मत नहीं करेंगे। पुलिस ने शिवसैनिकों के जोश और गुस्से को देखते हुए कलानगर इलाके में सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ा दी है।
उद्धव ठाकरे ने शिवसैनिकों से साधा संवाद
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे शुक्रवार दोपहर ‘मातोश्री’ आवास पर जैसे ही पहुंचे, कलानगर के बाहर जमा शिवसैनिकों को देखकर उन्होंने बिना देर किए अपने काफिले को रोक दिया। अपनी कार से उतरकर वे जमा हुए शिवसैनिकों के पास गए और उनसे बातचीत की। इस दौरान शिवसैनिकों ने उद्धव ठाकरे से कहा कि साहेब, यह हमारा मंदिर है। अगर वे यहां आते हैं, तो उन्हें हम नहीं छोड़ेंगे। शिवसैनिकों से मिलने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ‘मातोश्री’ गए। देर रात को ‘मातोश्री’ से निकलते समय उन्होंने देखा कि शिवसैनिकों की भीड़ दोगुनी हो गई है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फिर से अपनी कार रोक दी और शिवसैनिकों के पास जाकर उन्हें अब घर लौट जाने को कहा। उन्होंने शिवसैनिकों से कहा कि जाओ अब घर जाओ, रात को आराम करो। लेकिन शिवसैनिकों ने कहा कि साहेब चिंता न करें, हम रातभर यहीं रहेंगे।
चालीसा की चार लाइन भी नहीं बोल पाए राणा
रवि राणा और नवनीत की कल उस समय बोलती बंद हो गई, जब पत्रकारों ने उनसे हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए कहा। हालांकि राणा दंपति हनुमान चालीसा की चार पंक्तियां भी सही तरीके से नहीं बोल पाया, जिसे लेकर मौके पर मौजूद सभी लोग अचंभित हो उठे।
राणा दंपति को मुंबई पुलिस ने भेजा नोटिस
मुंबई पुलिस ने शुक्रवार को विधायक रवि राणा और सांसद पत्नी नवनीत राणा को नोटिस भेजा है। नोटिस के माध्यम से कानून-व्यवस्था की स्थिति को बाधित न करने की चेतावनी दी गई है। पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) मंजूनाथ सिंगे के नेतृत्व में एक टीम राणा के आवास पर गई और उन्हें खेरवाड़ी पुलिस स्टेशन से सीआरपीसी की धारा १४९ के तहत नोटिस दिया।

अन्य समाचार