मुख्यपृष्ठटॉप समाचार‘विक्रांत घोटाला': भाजपाइयों की बोलती बंद! पीएमसी बैंक के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग...

‘विक्रांत घोटाला’: भाजपाइयों की बोलती बंद! पीएमसी बैंक के जरिए मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप

 जगह-जगह दर्ज हो रही है सौमैया पिता-पुत्र के खिलाफ एफआईआर
 संजय राऊत ने दी और घोटालों के राजफाश की चुनौती
सामना संवाददाता / मुंबई। आईएनएस विक्रांत को बचाने के लिए चंदे के रूप में लिए गए ५७ करोड़ रुपए हजम करने संबंधित कथित आरोपों का सामना कर रहे भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया और उनके बेटे नील सोमैया की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। सोमैया पिता-पुत्र द्वारा किए गए इस महाघोटाले का आरटीआई के जरिए हुए इस खुलासे को शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत पूरी आक्रामकता के साथ उठा रहे हैं। संजय राऊत का कहना है कि सोमैया के इस भ्रष्टाचार से राज्यसभा को स्थगित करने का वक्त आ गया। सदन में भाजपाई नेताओं, सासदों को बोलती बंद हो गई है। उन्होंने पीएमसी बैंक के जरिए सोमैया पुत्र पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया तथा आईएनएस विक्रांत से भावनात्मक तौर पर जुड़े देशवासियों से इस मामले में एफआईआर दर्ज कराने की अपील की है।
बता दें कि विक्रांत बचाने के नाम पर जुटाया गया चंदा हजम करनेवाले सोमैया के खिलाफ शिवसेना सांसद संजय राऊत द्वारा छेड़ी गई लड़ाई में मुंबई, महाराष्ट्र सहित पूरे देश से सकारात्मक प्रतिसाद मिल रहा है। कल दिल्ली से मुंबई लौटे संजय राऊत का हजारों की संख्या में मौजूद मुंबईकरों व शिवसैनिकों ने गाजे-बाजे, फूलमालाओं से मुंबई एयरपोर्ट पर भव्य स्वागत किया। एयर पोर्ट पर पत्रकारों द्वारा राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार के मंत्रियों-नेताओं के खिलाफ केंद्रीय जांच एजेंसियों की कार्रवाई से संबंधित सवाल के जवाब में राऊत ने कहा कि संकट की इस घड़ी को हम अवसर की तरह देख रहे हैं। महाविकास आघाड़ी में शामिल तीनों पार्टियों के लोग मिल कर इस संकट का सामना कर रहे हैं। इसके अलावा उन्होंने सोमैया और भाजपा के लोगों से संबंधित लोगों द्वारा किए गए और भी भ्रष्टाचारों को जल्द ही खुलासा करने का एलान किया।

अन्य समाचार