मुख्यपृष्ठसमाचारलड़का-लड़की बरामद करने पहुंची पुलिस का ग्रामीणों ने किया विरोध

लड़का-लड़की बरामद करने पहुंची पुलिस का ग्रामीणों ने किया विरोध

-पुलिस टीम के साथ नहीं हुई मारपीट- इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह

कमलकांत उपमन्यु / मथुरा

नौहझील के गांव छिनपारई में ग्रामीणों ने नौहझील-फिरोजाबाद पुलिस को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने की घटना प्रकाश में आई है। बताया जाता है कि पुलिस टीम गांव में लड़का-लड़की बरामद करने पहुंची थी। ग्रामीण मारपीट की घटना को अंजाम देकर लड़का-लड़की छुड़ा ले गए। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस टीम ने गिरफ्त से छूटे लड़का-लड़की को पुन: अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस ने नामजदों सहित अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया है।
मिली जानकारी के अनुसार, फिरोजाबाद पुलिस को जानकारी हुई कि फिरोजाबाद निवासी जेर मौहम्मद की पुत्री को नफरूद्दीन पुत्र नसीर निवासी हसायन हाथरस भगाकर अपने बहनोई कारिंदा खां निवासी नौहझील के यहां ले आया है। फिरोजाबाद पुलिस और नौहझील थाने के चौकी प्रभारी यमुनापुल आदेश कुमार को साथ लेकर गांव छिनपारई पहुंच गये जहां पुलिस ने कारिंदा खां से पूछताछ करते हुए मकान में छानबीन शुरू कर दी। इस बीच भीड़ होने का लाभ उठाते हुए दोनों लड़का-लड़की भागने में सफल रहे। पुलिस ने कारिंदा खां को हिरासत में लेकर गाड़ी में बैठा लिया और गांव के बाहर पोखर के पास से होकर आ रहे थे। तभी गांव प्रधान छिनपारई बच्चू व उनका पुत्र योगेश सहित सैकड़ों ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस की गाड़ियों को पोखर पर घेर लिया और मारपीट करते हुए कारिंदा खां को छुड़ा लिया।
ग्रामीणों द्वारा पुलिस के साथ जमकर मारपीट की घटना भी प्रकाश में आ रही है। बबाल की सूचना पर नौहझील थाना पर दी गई। आनन-फानन में इंस्पेक्टर शैलेन्द्र सिंह पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए जहां पुलिस फोर्स को देख ग्रामीण वहां से भाग खड़े हुए। वहीं पुलिस लड़का-लड़की को वहां से बरामद कर ले आई। इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह ने बताया कि इलाका पुलिस व फिरोजाबाद पुलिस सूचना पर लड़का-लड़की बरामद करने छिनपारई गई थी, जहां ग्रामीणों द्वारा पुलिस का विरोध किया, लेकिन मारपीट की कोई घटना नहीं हुई है।

अन्य समाचार