मुख्यपृष्ठनए समाचारपुणे में ‘जल'जला, एक दिन में ९ की डूबने से मौत

पुणे में ‘जल’जला, एक दिन में ९ की डूबने से मौत

सामना संवाददाता / पुणे
महाराष्ट्र का पुणे जिला ‘जल’जला अर्थात जल के कारण हुए भीषण हादसों के कारण बीते गुरुवार को हिल गया। यहां दो अलग हादसों में ९ लोगों की डूबने से मौत हो गई। पहली घटना में भोर तालुका स्थित भाटघर डैम में हुई थी। इसी तरह की दूसरी घटना खेड़ तालुका के चासकमान डैम पर घटित हुई, जिसमें दो छात्र एवं दो छात्राओं की गहरे पानी में डूबने से दर्दनाक मौत हो गई। बता दें कि एक परिवार किसी समारोह में हिस्सा लेने के लिए पुणे के भोर तहसील स्थित नारेगांव आया था। वहां से परिवार की कुछ युवतियां भोर तालुका स्थित भाटघर बांध घूमने गई थी। वहां डैम के पानी में नहाने के दौरान गहराई का अनुमान न होने के कारण एक युवती पानी में डूबने लगी।

उसे बचाने के प्रयास में साथ में नहा रही ४ और युवतियां भी पानी में डूब गई। इसकी जानकारी उक्त युवतियां के साथ आई एक ९ साल की बच्ची ने परिजनों को फोन करके दी। हादसे के समय वह साथी युवतियों के कपड़े, सामान लेकर किनारे पर बैठी थी। उसने बेबस होकर उक्त खौफनाक मंजर देखा था। हादसे में मारी गई युवतियों के नाम १९ वर्षीया खुशबू लंकेश राजपूत, २० वर्षीया मनीषा लखन राजपूत, २१ वर्षीया चांदनी शक्ति राजपूत, २२ वर्षीया पूनम संदीप राजपूत और २३ वर्षीया मोनिका रोहित चव्हाण (उम्र २३) बताए जा रहे हैं। इनमें से चार लड़कियों के शव बरामद हो चुके हैं और पांचवी की तलाश जारी है। इसी तरह खेड तहसील के चासकमान जलाशय के पास स्थित सहयाद्रि आवासीय विद्यालय के चार छात्रों (दो लड़के और दो लड़कियां) की डूबने से मौत हो गई। १०वीं कक्षा में पढ़नेवाले उक्त सभी छात्र दूसरे छात्रों और शिक्षकों के साथ वहां नहाने आए थे। उसी दौरान गहरे पानी में पहुंच जाने से वे हादसे का शिकार हो गए।

अन्य समाचार