मुख्यपृष्ठनए समाचारहर घर में जल, जल्दी पहुंचाओ नल! मुख्यमंत्री का अधिकारियों को निर्देश

हर घर में जल, जल्दी पहुंचाओ नल! मुख्यमंत्री का अधिकारियों को निर्देश

सामना संवाददाता / मुंबई। राज्य में प्रत्येक व्यक्ति को पीने का पानी मिलना उसका अधिकार है। जलजीवन योजना के तहत सरकार उनके अधिकारों को संरक्षित रखते हुए उन्हें घर तक नल कनेक्शन देकर पानी पहुंचा रही है। इस योजना के तहत सरकार ने राज्य में अब तक ७१ प्रतिशत लक्ष्य प्रात कर लिया है। बचे हुए क्षेत्रों में भी लोगों के घर जल पहुंचाने के लिए नल कनेक्शन जल्दी दो, ऐसा निर्देश मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिया। मुख्यमंत्री के ‘वर्षा’ निवास पर ‘जलजीवन मिशन’ की समीक्षा बैठक हुई। इस बैठक में मुख्यमंत्री ने उक्त योजना की देख-रेख पर विशेष जोर देने का भी निर्देश दिया।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बताया कि प्रदेश में ग्रामीण परिवारों को नल का पानी उपलब्ध कराने का लक्ष्य ७१ प्रतिशत पूरा कर लिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों के प्रत्येक घर में व्यक्तिगत नल कनेक्शन के माध्यम से कम से कम ५५ लीटर शुद्ध पानी प्रति व्यक्ति को प्रतिदिन मिलना ही चाहिए। राज्य के १,४६,०८,५३२ ग्रामीण परिवारों में से १,०३,५२,५७८ को व्यक्तिगत नल कनेक्शन प्रदान किया है। इस बैठक में जलापूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटील, राज्य मंत्री संजय बनसोडे, मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह सहित जल आपूर्ति विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि जलापूर्ति योजना को सुचारु रूप से चलाने के लिए जलापूर्ति प्रबंधन का व्यापक नजरिया रखना आवश्यक है। ‘जलजीवन मिशन’ के तहत प्रदेश में जलापूर्ति योजनाओं का कार्य तेजी से हो रहा है।
‘जलजीवन मिशन’ में महाराष्ट्र अग्रणी
जलापूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटील ने कहा कि जल योजनाओं का सुचारु रूप से संचालन सुनिश्चित करने के लिए योजनाओं की देख-रेख पर विशेष जोर दिया जा रहा है। महाराष्ट्र राज्य ‘जलजीवन मिशन’ के तहत अग्रणी है और मिशन के तहत काम तेजी से पूरा किया जाएगा।
२०२४ तक हर घर में पहुंचेगा पानी
बता दें ‘जलजीवन मिशन’ केंद्र सरकार और राज्य सरकार की ५०:५० प्रतिशत की भागीदारी वाला अभियान है। सरकार वर्ष २०२४ तक देश के ग्रामीण क्षेत्रों में सभी परिवारों को हर घर नल से जल-पाइप जलापूर्ति की तरह पानी उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास कर रही है। ‘जलजीवन मिशन’ के तहत घरेलू नल, पानी की गुणवत्ता, संस्थागत नल और प्रत्येक गांव को जल ग्राम घोषित करने का विशेष अभियान चलाया गया है। ‘जलजीवन मिशन’ का उद्देश्य है कि ग्रामीण क्षेत्रों के घरों में नल कनेक्शन सहित पर्याप्त गुणवत्ता वाले पानी की पर्याप्त आपूर्ति हो।

अन्य समाचार