मुख्यपृष्ठनए समाचारआंध्र प्रदेश और तेलंगाना के बीच पानी की जंग! नागार्जुन सागर बांध...

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के बीच पानी की जंग! नागार्जुन सागर बांध पर तैनात किए गए ७०० पुलिसकर्मी

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

पानी की जंग को लेकर इस समय आंध्र प्रदेश और तेलंगाना आमने-सामने आ गए हैं। जिसके बाद नागार्जुन सागर बांध की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। बताया जा रहा है कि सुरक्षा के मद्देनजर आंध्रप्रदेश ने ७०० पुलिसकर्मियों को तैनात किया है। केंद्र सरकार ने भी दोनों राज्यों से शांति बरतने की अपील की है। बता दें कि तेलंगाना में चुनाव शुरू होते ही आंध्र प्रदेश ने नागार्जुन सागर बांध का वंâट्रोल अपने हाथ में ले लिया और पानी रिलीज करना शुरू कर दिया। जिसके बाद से ही दोनों राज्यों के बीच तनाव काफी बढ़ गया। सूत्रों के अनुसार, तेलंगाना में चुनाव के दिन जब ज्यादातर अधिकारी चुनाव में व्यस्त थे, तब आंध्र प्रदेश ने सागर बांध को अपने कब्जे में ले लिया।

केंद्र ने दिया दखल

दोनों राज्यों के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी दखल दिया है। यूनियन होम सेक्रेटरी अजय भल्ला ने आंध्र और तेलंगाना के अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बातचीत की है। सूचना है कि दोनों ही राज्य केंद्र के प्लान पर सहमत हो गए हैं।

रोजगार के लिए शहर की तरफ पलायन कर रहे हैं आदिवासी  

राधेश्याम सिंह / पालघर 

पालघर जिले के दूर-दराज के क्षेत्रों में रोजगार के अवसर उपलब्ध नहीं होने की वजह से बड़ी संख्या में आदिवासी अब शहरों की तरफ रुख कर रहे हैं। इनमें जव्हार, मोखाडा, विक्रमगढ़, तलासरी, डहाणू तालुका के पूर्वी पट्टा सहित अन्य क्षेत्रों में रहनेवाले आदिवासियों की संख्या बड़े पैमाने पर है। ग्रामीण आदिवासी क्षेत्रों में कृषि कार्य पूरा होने के बाद दुर्गम आदिवासी क्षेत्रों के नागरिक रोजगार के लिए भिवंडी, वसई, ठाणे, नासिक और दक्षिण गुजरात के विभिन्न स्थानों पर र्इंट भट्टों, निर्माणकार्यों में काम करने के लिए पलायन करने लगे हैं। इसके चलते पालघर जिले के कई गांवों में सिर्पâ बूढ़े, महिला-पुरुष और बच्चे ही नजर आते हैं। इन क्षेत्रों में रहनेवाले आदिवासी किसान केवल बरसात के पानी से ही खेती करते हैं। विक्रमगढ़ के विधायक सुनील भुसारा ने बताया कि रोजगार गारंटी को मंजूरी दिलाने का काम चल रहा है, जल्द ही मंजूरी मिलने के बाद हम काम शुरू करेंगे। स्थाई रोजगार दिलाने की कोशिश करेंगे।

अन्य समाचार