मुख्यपृष्ठनए समाचारकिसी राजनीतिक पार्टी को उत्तर देने के लिए हम बंधे नहीं हैं!...

किसी राजनीतिक पार्टी को उत्तर देने के लिए हम बंधे नहीं हैं! मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमना की खरी-खरी

एजेंसी / सैनफ्रांसिस्को
लोकतंत्र में न्यायालय एक स्वतंत्र संस्था होती है और संविधान के प्रति जवाबदेही रखना न्यायालय का कर्तव्य है। परंतु कुछ राजनीतिक दलों को लगता है कि न्यायालय को उनका पक्ष लेना चाहिए। उनके कार्यों का समर्थन करना चाहिए। लेकिन हमारी जवाबदेही सिर्फ देश के संविधान के प्रति निष्ठा रखने की है। किसी भी राजनीतिक पार्टी को उत्तर देने के लिए हम मजबूर नहीं हैं, ऐसे शब्दों में मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमना ने राजनीतिक पार्टियों को खरी-खरी सुनाई।
कैलिफोर्निया के सैनफ्रांसिस्को  में एसोसिएशन ऑफ इंडो अमेरिकन के कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि देश को आजादी मिले ७५ वर्ष पूरे हो गए हैं। लेकिन संविधान में हर संस्था को दी गई जिम्मेदारी और भूमिकाओं को निभानेवाली संस्थाओं की सराहना करना हम अभी तक सीखे नहीं हैं, इसका मुझे अफसोस होता है। रमना ने आगे कहा कि सरकार के हर कार्य में न्यायालयीन समर्थन मिलना चाहिए, ऐसी सत्ताधारी पार्टी के लोगों की अपेक्षा होती है, तो न्यायालय राजनीतिक परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सरकार का पक्ष न ले, ऐसी विपक्ष की इच्छा होती है। आम जनता में फैला अज्ञान ही ऐसी विचारधारा को मदद करता है। राजनीतिक पार्टियों की भूमिका समझने की विचार प्रक्रिया लोकतंत्र के आकलन के अभाव के कारण उत्पन्न होती है, ऐसा रमना ने कहा।

अन्य समाचार