मुख्यपृष्ठनए समाचारअराजकता के खिलाफ ‘तैयार हैं हम' ... आज कांग्रेस की विशाल रैली

अराजकता के खिलाफ ‘तैयार हैं हम’ … आज कांग्रेस की विशाल रैली

सामना संवाददाता / नागपुर
आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अपने १३८वें स्थापना दिवस के अवसर पर महाराष्ट्र के नागपुर में मेगा रैली का आयोजन किया है। इस रैली को ‘तैयार हैं हम’ नाम दिया गया है। २८ तारीख दोपहर को होने वाली कांग्रेस की इस विशाल रैली में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी सहित तमाम वरिष्ठ नेता उपस्थित रहेंगे।
कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल के मुताबिक, पूरे कार्यक्रम की तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है। कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस पर इस साल २८ दिसंबर को नागपुर की ऐतिहासिक भूमि पर महारैली का आयोजन किया जा रहा है। महाराष्ट्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए गौरव की बात है कि कांग्रेस की १३८वीं वर्षगांठ यहां नागपुर में मनाई जा रही है। इस महारैली को लेकर महाराष्ट्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह और ख़ुशी का माहौल है। महंगाई, बेरोजगारी, किसान-मजदूरों की समस्या, भाजपा सरकार की अत्याचारी व्यवस्था, भ्रष्टाचार और अत्याचार से मुक्त भारत बनाने के उद्देश्य से यह महारैली आयोजित की गई है। वेणुगोपाल ने दावा किया कि इस रैली में १० लाख लोग हिस्सा लेंगे।
महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नाना पटोले ने जानकारी दी है कि जिस मैदान पर यह रैली हो रही है उसका नाम ‘भारत जोड़ो मैदान’ रखा गया है और इस रैली का नारा ‘तैयार हैं हम’ है। पटोले ने कहा कि आज देश में लोकतंत्र और संविधान को नष्ट किया जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने निरंकुश व्यवस्था कायम कर रखी है। महंगाई, बेरोजगारी, किसान-मजदूरों की समस्या गंभीर हो गयी है। भाजपा सरकार द्वारा बनाई गई इस अत्याचारी व्यवस्था को खत्म करने के लिए भ्रष्टाचार और अत्याचार मुक्त भारत बनाना, रोजगार पैदा करना, महंगाई कम करना, किसानों को न्याय दिलाना महाविकास आघाड़ी की जिम्मेदारी है।
नाना पटोले ने कहा कि दिसंबर १९२० में महात्मा गांधी ने नागपुर में अत्याचारी ब्रिटिश शासन के खिलाफ असहयोग आंदोलन का नारा बुलंद किया था। आखिरकार १९४७ में अंग्रेजों को भारत से भागना पड़ा। नागपुर देश के आंदोलन और क्रांति का केंद्रीय स्थान है। १९५९ में नागपुर में ही इंदिरा गांधी को राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित किया गया था। इतनी ऐतिहासिक पृष्ठभूमि वाले नागपुर शहर में कांग्रेस का १३८वां स्थापना दिवस मनाया जाना कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए एक बेहद महत्वपूर्ण बात है।

अन्य समाचार