मुख्यपृष्ठनए समाचारहमने भाजपा छोड़ी है, हिंदुत्व नहीं! ...हम देशभक्त हैं, मोदीभक्त नहीं!! -उद्धव...

हमने भाजपा छोड़ी है, हिंदुत्व नहीं! …हम देशभक्त हैं, मोदीभक्त नहीं!! -उद्धव ठाकरे का जोरदार हमला

सामना संवाददाता / मुंबई
जिन्हें हमने चुनकर दिल्ली भेजा, उन्होंने शिवसेना के साथ विश्वासघात किया। ऐसे गद्दारों की पालकी कब तक ढोएं? ऐसे गद्दारों को राजनीति से खत्म करना ही होगा, इन शब्दों में कल महाविकास आघाड़ी के उम्मीदवारों के प्रचारार्थ आयोजित सभा में शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने भाजपा की बखिया उधेड़ दी। उन्होंने कहा, ‘हमने भाजपा को छोड़ा है, हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा। हम देशभक्त हैं, हम मोदी भक्त नहीं हैं, ऐसा हमला भी उन्होंने बोला।
इस दौरान उद्धव ठाकरे ने कहा कि घाती और भाजपा द्वारा पैसे बांटे जा रहे हैं, ऐसा सामने आने के बाद शिवसैनिकों ने छापा मारा, लेकिन इस बार पुलिस ने शिवसैनिकों और महिला कार्यकर्ताओं की बेरहमी से पिटाई की। सत्ता में आने पर इन पुलिसवालों को भी देख लेंगे, ऐसी चेतावनी भी उद्धव ठाकरे ने दी। लोकसभा चुनाव प्रचार के आखिरी दिन उद्धव ठाकरे ने तीन जनसभाएं और धमाकेदार रोड शो भी किया। इसमें महाविकास आघाड़ी के पूर्वी मुंबई के उम्मीदवार संजय दीना पाटील, दक्षिण मुंबई के उम्मीदवार अरविंद सावंत और दक्षिण मध्य मुंबई के उम्मीदवार अनिल देसाई के प्रचार के लिए संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में धमाकेदार सभाओं का आयोजन किया गया था। दक्षिण मध्य मुंबई में खांडके बिल्डिंग में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘वर्तमान में, मैं अपने सभी देशभक्त भाइयों, बहनों और माताओं से कहकर अपना भाषण शुरू करता हूं।’ कुछ लोगों को उसके बारे में बुरा लग रहा है। फडणवीस ने कहा कि मैंने हिंदू धर्म छोड़ दिया है, लेकिन हमने हिंदू धर्म नहीं छोड़ा है और छोडूंगा भी नहीं, मैंने भाजपा को लात मार दी है।

मुंबई-महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी को मतदाताओं का भारी समर्थन मिल रहा है और कल आयोजित सार्वजनिक बैठकों और रोड शो में हजारों लोग उमड़े थे। शिवसेना महाविकास आघाड़ी के रोड शो में शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे, शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे के शामिल होने से रोड शो में काफी उत्साह देखने को मिला। महाविकास आघाड़ी के रोड शो का हर जगह मतदाताओं ने स्वागत किया। प्रचार के आखिरी दिन कई सार्वजनिक सभाएं और रोड शो हुए, जिसमें शिवसेना, कांग्रेस, एनसीपी के पदाधिकारी अभियान में शामिल हुए।

अन्य समाचार