मुख्यपृष्ठनए समाचारफाइनल हम ही जीतेंगे! विपक्ष की एकजुट प्रतिक्रिया

फाइनल हम ही जीतेंगे! विपक्ष की एकजुट प्रतिक्रिया

सामना संवाददाता / नई दिल्ली

तेलंगाना में कांग्रेस की जीत, एक नई शुरुआत

चार राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के रुझानों में भाजपा को भले ही तीन राज्यों में बंपर कामयाबी मिली हो और भाजपा वाले इस जीत को ऐतिहासकि बता रहे हों लेकिन इस जीत ने विपक्ष के मनोबल को बिल्कुल भी कमजोर नहीं किया है। इस हार को स्वीकार करने के बाद आगामी लोकसभा चुनावों में पूरी ताकत झोंकने की बात विपक्ष की ओर से की जा रही है। चुनाव का यह सेमीफाइनल भले ही बीजेपी जीती हो लेकिन आगामी लोकसभा- २०२४ का चुनाव रुपी फाइनल तो विपक्ष ही जीतेगा, ऐसा दृढ़ विश्वास विपक्ष की ओर से जताया जा रहा है। तेलंगाना में कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाने जा रही है। इस जीत को कई मायने में कांग्रेस के लिए एक ऐतिहासिक जीत कहा जा सकता है। ऐसे में यह कहना कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी कि बीजेपी को अगले साल होनेवाले लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ सकता है और इसके लिए विपक्ष ने अभी से जीत की पूरी तैयारी शुरू कर दी है। वैसे बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने पूरे दम-खम के साथ इन चार राज्यों के चुनाव में भाग लिया था। लेकिन अब पूरे जोश के साथ विपक्ष एक बार फिर जीत की लड़ाई में जुट रहा है।

विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी

तेलंगाना में कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है। इन सबके बीच चुनावी राज्यों के नतीजों को लेकर राहुल गांधी ने एक एक्स पोस्ट करते हुए लिखा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान का जनादेश हम विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं-विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी। राहुल ने आगे लिखा कि तेलंगाना के लोगों को मेरा बहुत धन्यवाद-प्रजालु तेलंगाना बनाने का वादा हम जरूर पूरा करेंगे। सभी कार्यकर्ताओं को उनकी मेहनत और समर्थन के लिए दिल से शुक्रिया। वहीं प्रियंका गांधी ने कहा कि तेलंगाना की जनता ने इतिहास रचते हुए कांग्रेस पार्टी के पक्ष में जनादेश दिया है। यह प्रजालू तेलंगाना की जीत है। यह प्रदेश की जनता और कांग्रेस पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता की जीत है। उन्होंने कहा कि तेलंगाना की जनता को तहेदिल से धन्यवाद। कांग्रेस पार्टी तेलंगाना में शांति, समृद्धि और प्रगति के लिए संकल्पबद्ध है। प्रियंका ने आगे लिखा कि राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनता ने कांग्रेस पार्टी को विपक्ष की भूमिका सौंपी है। जनता का पैâसला सिर माथे पर।

‘कड़ी मेहनत से वापसी करेंगे’ खड़गे का विश्वास

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार पर निराशा जताते हुए रविवार को कहा कि उनका दल इन राज्यों में खुद को मजबूत करेगा तथा विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ के घटक दलों के साथ मिलकर अगले लोकसभा चुनाव के लिए अपने आपको तैयार करेगा। उन्होंने तेलंगाना में कांग्रेस की जीत के लिए मतदाताओं का आभार जताया। मल्लिकार्जुन खड़गे ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, `भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर विश्वास और भरोसा जताने के लिए मैं तेलंगाना के मतदाताओं का धन्यवाद करता हूं। मैं उन सभी का भी धन्यवाद करता हूं, जिन्होंने हमें छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश एवं राजस्थान में वोट दिया। ये चुनाव परिणाम हमारी अपेक्षाओं के अनुरूप नहीं रहे हैं, परंतु हमें विश्वास है कि हम मेहनत, दृढ़ निश्चय और मजबूती के साथ वापसी करेंगे।’

२०२४ के लोकसभा चुनाव में विपक्षी दलों के लिए परिणाम बेहतर रहेंगे

राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के स्पष्ट जीत की ओर बढ़ने के बीच पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने रविवार को उम्मीद जताई कि २०२४ के लोकसभा चुनाव में विपक्षी दलों के लिए परिणाम बेहतर रहेंगे। मुफ्ती ने कुपवाड़ा में पार्टी के एक कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से कहा कि विपक्षी दलों को जांच एजेंसियों, धन बल और निर्वाचन आयोग सहित सरकार की ताकत का सामना करना पड़ा है। उन्होंने कहा, `मैं उम्मीद करती हूं कि २०२४ (लोकसभा चुनाव) में परिणाम बेहतर रहेंगे (विपक्ष के लिए)। आज जब चुनाव होते हैं तो एक तरफ विपक्ष होता है और दूसरी तरफ सरकार की ताकत, एजेंसियां, पैसा और निर्वाचन आयोग होता है।’

अन्य समाचार