मुख्यपृष्ठटॉप समाचारये कैसा `हिंदू' राज? मोदी-योगी राज में कट्टरपंथी मुसलमान हुए बेखौफ;...

ये कैसा `हिंदू’ राज? मोदी-योगी राज में कट्टरपंथी मुसलमान हुए बेखौफ; हिंदुओं पर आफत!

  • ‘अपनी लड़की को मेरे पास भेजो, वरना सिर तन से जुदा कर दूंगा’
  •  एक पिता को कट्टरपंथी की खुली धमकी
  • लगातार निशाना बनाई जा रही हैं हिंदू लड़कियां

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
भाजपा द्वारा की जानेवाली हिंदुत्व की राजनीति का लाभ सिर्फ भाजपा को ही हो रहा है। हिंदुओं को इससे कोई लाभ अब तक नहीं हुआ है, बल्कि २०२४ में होनेवाले लोकसभा चुनाव को जीतने के लिए भाजपा जिस तरह से हिंदू-मुसलमानों के बीच बैर बढ़ाने की कोशिश कर रही है, उसने मुसलमानों को उकसाने का काम किया है और हिंदुओं की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है। भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विवादित बयान से शुरू हुए पैगंबर विवाद के बाद उदयपुर, अमरावती और कर्नाटक में तीन लोग कट्टरपंथियों का शिकार बन गए। कई लोगों पर सिर ‘तन से जुदा’ गैंग का खतरा मंडरा ही रहा है। इससे हिंदू जहां खौफजदा हुए हैं, वहीं लव जिहाद के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पाकिस्तान की तरह अब मुस्लिम युवक हिंदुस्थान में ही हिंदू लड़कियों को अपना जीवन साथी बनाने की बलात कोशिश करने लगे हैं। वह भी पीएम मोदी और सीएम योगी के राज में।
झारखंड, उत्तराखंड और दिल्ली में जिहादी मानसिकता वाले मुस्लिम युवकों द्वारा हिंदू किशोरियों की नृशंस हत्या के बाद अब यूपी में इसी तरह का मामला सामने आया है। लगातार लव जिहाद का घाव झेल रहे उत्तर प्रदेश के बागपत में अब एक मुस्लिम कट्टरपंथी युवक एक हिंदू व्यक्ति
पर अपनी बेटी को भेजने के लिए दबाव बना रहा है। उसने अपनी कथित प्रेमिका के पिता को धमकी दी है कि वह अपनी बेटी को उसके पास भेज दे अन्यथा वह उसका और उसके पूरे परिवार का सिर तन से जुदा कर देगा। कट्टरपंथी की इस जिहादी धमकी के बाद लड़की के पिता समेत पूरा परिवार दहशत के साये में है।
लड़की का परिवार बागपत के खेकड़ा थाना क्षेत्र का निवासी है। १८ जुलाई को पीड़ित पिता अपनी पत्नी के साथ स्कूटर से दिल्ली की तरफ जा रहे थे। इसी बीच गाजियाबाद निवासी मोहम्मद रहीस ने उन्हें रास्ते में रोक लिया और कहा कि ‘अपनी बेटी को मेरे पास भेज दो, नहीं तो तुम्हारा और तुम्हारे पति का ‘सर तन से जुदा कर दूंगा।’
हंगामा देख मौके पर जमा हुए लोग
लड़की के पिता ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया है कि हंगामा देखकर लोग मौके लोग जमा हो गए। भीड़ को देखकर मोहम्मद रहीस वहां से भाग गया। इसके बाद से वह निरंतर उनके परिवार पर लड़की को उसके पास भेजने का दबाव बना रहा है। २३ अगस्त को उसने अपने व्हॉट्स ऐप स्टेटस पर उसकी बेटी की अश्लील तस्वीर भी लगा दी थी। जानकारी के अनुसार पीड़ित पिता ने बताया कि उसकी बेटी एक स्कूल में टीचर थी। वहीं मोहम्मद रहीस शुक्र बाजार में ठेला लगाता था। ३० मई को उसकी बेटी बिना बताए लापता हो गई थी। हिंदू संगठनों के हंगामे के बाद पुलिस ने उनकी बेटी को एक माह बाद बरामद कर परिजनों के हवाले किया गया था। उसके बाद से मोहम्मद रहीस लगातार लड़की को उसके पास भेजने का दबाव डाल रहा है। पीड़ित पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

अन्य समाचार