मुख्यपृष्ठनए समाचारयह आग कब बुझेगी! ... मुंबई में बढ़ीं आग की घटनाएं ...एक...

यह आग कब बुझेगी! … मुंबई में बढ़ीं आग की घटनाएं …एक साल में ३४ व्यक्तियों की मौत

• ५ वर्षों में फायर ब्रिगेड को १४ हजार कॉल
सामना संवाददाता / मुंबई
पिछले कुछ वर्षों से मुंबई में आग की घटनाओं में वृद्धि हुई है। इतना ही नहीं इन आग की घटनाओं में मरने वालों की संख्या में भी लगातार वृद्धि हो रही है। पिछले वर्ष ३४ लोगों की आग की घटनाओं में मौत हो गई है, जबकि आग की घटना को लेकर १४ हजार कॉल फायर ब्रिगेड के पास आए हैं।
मुंबई फायर ब्रिगेड के आंकड़ों के अनुसार, २०१८ और २०२३ के बीच मुंबई में कुल १८,२७२ आग की घटनाएं दर्ज की गर्इं हैं। जिसमें १०२ लोगों की जान गई, जबकि ९६७ लोग घायल हो गए हैं। आंकड़ो में बताया गया है कि २०२१ और २०२२ के बीच कुल ३४ व्यक्तियों की मृत्यु हुई, जो पांच वर्षों में सबसे अधिक है। जबकि, २०१९ और २०२० के बीच अलग अलग आग की घटनाओं में २० मौतें और २०२० और २०२१ के बीच १८ मौतें हुर्इं हैंै।
दर्ज किए गए १४ हजार कॉल
मुंबई में पिछले ५ वर्षों से आग की घटनाओं में लगातार वृद्धि देखी गई है। कुछ दिनों पहले जवेरी बाजार में तो इससे पहले इसी साल अगस्त में गैलेक्सी होटल में आग लगने से तीन लोगों की मौत हो गई थी। फायर ब्रिगेड के आंकड़ों के अनुसार इस साल जनवरी और अगस्त के बीच लगभग १४ हजार आपदा कॉल दर्ज की गई है। जिनमें से २,९२५ यानी ३० प्रतिशत आग लगने से संबंधित कॉल थे, जबकि ४,५१५ यानी ४५ प्रतिशत घर और इमारत गिरने के बाद बचाव कार्यों की मांग करने वाली सहायता कॉल थे। इन घटनाओं में डूबने की घटनाएं भी शामिल हैं, जबकि २,५३३ यानी शेष २५ प्रतिशत कॉलों को ‘अन्य’ श्रेणी के अंतर्गत वर्गीकृत किया गया है। फायर ब्रिगेड के अनुसार २०२२ में इस अवधि के दौरान भी लगभग इतने ही आपदा कॉल दर्ज का गई, जिनमें से लगभग ४ हजार यानी २९ प्रतिशत आग से संबंधित थी, जबकि ६,३०० या ४५ प्रतिशत बचाव कॉल से संबंधित थीं।

इस वर्ष आग की प्रमुख घटनाएं
इस साल जून में चाइना बाजार में आग लग गई थी। चाइना बाजार के धनजी स्ट्रीट पर एक ५ मंजिला इमारत में भीषण आग में जन-धन की हानि हुई।
सांताक्रुज में छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (सीएसएमआईए) के पास गैलेक्सी होटल में भीषण आग लगने की घटना हुई, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई।
जून के महीने में एक अन्य आग की घटना में सांताक्रुज (पश्चिम) में आग लगने से एक वरिष्ठ नागरिक की मृत्यु हो गई।
इस साल मार्च में अंधेरी (पूर्व) के साकीनाका में एक हार्डवेयर गोदाम में आग लगने से दो लोगों की मौत हो गई।

 

अन्य समाचार