मुख्यपृष्ठसमाचारकब सुधरेगी टीएमटी?...अब तक नहीं आई १०० इलेक्ट्रिक बसों की खेप

कब सुधरेगी टीएमटी?…अब तक नहीं आई १०० इलेक्ट्रिक बसों की खेप

सामना संवाददाता / ठाणे

अपनी खराब सेवा के कारण हमेशा चर्चा में रहनेवाला ठाणे मनपा परिवहन प्रशासन कब सुधरेगा, इसका इंतजार आम ठाणेकर कर रहे हैं। टीएमटी परिवहन अधिकारियों के मुताबिक, केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्वच्छ वायु पहल के अंतर्गत उपलब्ध धनराशि से खरीदी जानेवाली १२३ इलेक्ट्रिक बसें चरणों में टीएमटी के बेड़े में शामिल हो रही हैं। अब पीएम ई बस योजना के पहले चरण में ठाणे शहर को शामिल करने के बाद सौ नई इलेक्ट्रिक बसें नए साल में फरवरी के अंत तक टीएमटी के बेड़े में शामिल होनेवाली हैं।
बता दें कि ठाणे मनपा परिवहन के बेड़े में कुल ३६४ बसें हैं। इनमें उपक्रम की अपनी १२४ बसें हैं, वहीं शेष २२० बसें जीजीसी आधार पर ठेकेदारों के माध्यम से चलाई जा रही हैं। कुल ३६४ बसों में से ३०० कोच वास्तव में यात्री सुविधा के लिए उपलब्ध हैं। ठाणे शहर की आबादी २५ लाख से ज्यादा हो गई है। इसके चलते यात्रियों की संख्या के मुकाबले बसों की संख्या अपर्याप्त है। इसी के चलते आलोचनाओं को ध्यान में रखकर ठाणे मनपा और परिवहन प्रशासन पिछले कुछ सालों से बसों की संख्या बढ़ाने पर जोर दे रहा है। उसी के एक भाग के रूप में केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्वच्छ वायु पहल के तहत उपलब्ध धनराशि से १२३ इलेक्ट्रिक वातानुकूलित बसें खरीदी जा रही हैं। उनमें से ८० बसें आ चुकी हैं और ये बसें यात्री सुविधा के लिए उपलब्ध हो रही हैं। शेष ४३ बसें अगले कुछ दिनों में आ जाएंगी। उसके बाद ठाणे शहर को पीएम ई बस योजना के पहले चरण में शामिल किया गया है। मनपा सूत्रों के अनुसार, फरवरी के अंत तक टीएमटी के बेड़े में सौ नई इलेक्ट्रिक वातानुकूलित बसें शामिल की जाएंगी।
चौखटा
केंद्र सरकार द्वारा पीएम ई-बस सेवा योजना क्रियान्वित की जा रही है। इस योजना में ३ लाख और उससे अधिक आबादी वाले शहर शामिल हैं। इस योजना के तहत देश के १६९ शहरों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) के आधार पर दस हजार इलेक्ट्रिक बसें संचालित की जाएंगी। योजना के पहले चरण के लिए शहरों का चयन कर लिया गया है और इसमें ठाणे शहर भी शामिल है। इससे ठाणेकरों की यात्रा सुगम होने के संकेत मिल रहे हैं।
पीएम ई-बस योजना के पहले चरण में ठाणे शहर को भी शामिल किया गया है। फरवरी २०२४ तक सौ टीएमटी बसें बेड़े में शामिल होंगी।
अभिजीत बांगर, आयुक्त, ठाणे महानगरपालिका

अन्य समाचार