मुख्यपृष्ठखबरेंराजस्थान में कौन रच रहा है आतंक की साजिश! ...लगातार दूसरे दिन...

राजस्थान में कौन रच रहा है आतंक की साजिश! …लगातार दूसरे दिन मिला विस्फोटक सामग्री का जखीरा

• दो दिन पहले ही उड़ाई गई थी रेल लाइन
सामना संवाददाता / डूंगरपुर
राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से अचानक ऐसी आतंकी घटनाएं हो रही हैं, जो सुरक्षा एजेंसियों को सोचने के लिए मजबूर कर रही हैं। सुरक्षा एजेंसियां यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि आखिरकार राजस्थान में आतंक की साजिश कौन रच रहा है? बता दें कि डूंगरपुर जिले में बुधवार को लगातार दूसरे दिन विस्फोटक सामग्री का जखीरा मिला है। विस्फोटक सामग्री का यह जखीरा भी आसपुर थाना इलाके में सोम नदी के किनारे झाड़ियों में मिला है। यहां २७ पैकेट में ५०० से ज्यादा जिलेटिन की छड़ें भरी हुई थीं। इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। सूचना पर तत्काल आसपुर पुलिस समेत सेंट्रल आईबी और इंटेलिजेंस की टीमें मौके पर पहुंच गर्इं। पूरे इलाके में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। मंगलवार को सोम नदी में विस्फोटक सामग्री से भरे कार्टन पड़े मिले थे। सवाल उठ रहा है कि राजस्थान में ही विस्फोटक सामग्रियां क्यों मिल रही हैं?
पुलिस उपाधीक्षक कमल कुमार ने बताया कि इस बार विस्फोटक सामग्री गड़ानाथजी गांव के पास भबराना पुल के नीचे मिली है। ये झाड़ियों में फेंका हुआ था। यहां पड़े मिले २७ पैकेट्स में जिलेटिन की ५०० से ज्यादा छड़ें (डेटोनेटर) भरी हुई थीं। मौके पर पहुंची सुरक्षा एजेंसियां भी विस्फोटक देखकर चौंक गर्र्इं। ये २७ पैकेट ५ अलग-अलग स्थानों पर पड़े मिले हैं। पुलिस और इंटेलिजेंस की टीमें अब भी नदी और उसके आसपास के इलाकों में सर्च कर रही हैं। इसके साथ ही ये भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक कहां से आया है?
पुलिस है परेशान
उल्लेखनीय है कि मंगलवार को सोम नदी के पेटे में १८६ किलो विस्फोटक मिला था। यह विस्फोटक कई कार्टन में भरा हुआ था। बाद में पुलिस उसे सात कट्टों में भरकर थाने ले गई थी। इस मामले की जांच में सामने आया था उसे धौलपुर की आरईसीएल पैâक्ट्री से बनाकर अजमेर के लिए भेजा गया था। पुलिस अभी मामले की पड़ताल में लगी ही थी कि बुधवार को लगातार दूसरे दिन विस्फोटक मिलने से वह हैरान-परेशान हो गई है।

रेलवे ट्रैक उड़ाने का हुआ था प्रयास
वहीं सबसे बड़ा सवाल यह है कि २ दिन पहले ही उदयपुर से अमदाबाद रेलवे लाइन को उड़ाया गया था। माइनिंग में प्रयुक्त होने वाले विस्फोटक सामग्री से रेलवे पुलिया पर विस्फोट किया गया था। उसी तरह के विस्फोटक सोम नदी में मिलने से कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। अब पुलिस भी रेलवे पुलिया को उड़ाने की साजिश के एंगल से भी इस मामले की जांच कर रही है। ऐसे में विस्फोटक को लेकर कई खुलासे भी हो सकते हैं।

अन्य समाचार