मुख्यपृष्ठनए समाचारआखिर क्यों सताया जा रहा है कनाडा के हिंदू समुदाय को?

आखिर क्यों सताया जा रहा है कनाडा के हिंदू समुदाय को?

योगेश कुमार सोनी

ऐसा पहली बार नहीं हो रहा कि कनाडा में हिंदू समुदाय को परेशान किया जा रहा हो। यहां हमेशा से हिंदुओं को अपनी जान बचाने के बाकी समुदायों से अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है। इस मामले को लेकर बीते शनिवार कनाडा के सरे इलाके में हिंदू समुदाय के लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। हिंदू समुदाय के लोगों ने मौजूदा कानून व्यवस्था पर चिंता जाहिर की और वैदिक हिंदू कल्चरल सोसायटी के लोगों को मिल रही फिरौती की धमकियों पर भी चिंता जताई। मौजूदा समय में हिंदू मंदिरों पर तमाम हमले की कई घटनाएं हुर्इं। २७ दिसंबर को भी कनाडा में लक्ष्मी नारायण मंदिर समिति के अध्यक्ष सतीश कुमार के बेटे के घर पर फायरिंग की घटना हुई। अब सरे में हिंदू समुदाय के लोगों को फिरौती देने को लेकर धमकियां मिलने की घटनाएं सामने आई हैं। लोगों का कहना है कि इससे समुदाय के लोग डरे हुए हैं। मंदिर समिति के अध्यक्ष सतीश कुमार का कहना है कि फिरौती को लेकर मिल रही धमकियों से पूरा हिंदू समुदाय डरा हुआ है। कई लोगों को धमकी मिली है। मुझे पता चला है कि कई लोगों ने तो धमकी की कॉल आने के बाद पैसा दे भी दिया है। बताया जा रहा है कि हिंदुओं ने अब तक लगभग अठारह करोड़ रुपए दे दिया है, जो एक बहुत बडी राशि है। कनाडा में कई लाखों हिंदू परिवार रहते हैं और हजारों बच्चे शिक्षा के लिए भी यहां से जाते हैं, लेकिन अब वहां की स्थिति देखकर कनाडा जाने वाला जरूर सोचेगा। वहां की सरकार से कई बार गुहार लगा ली, लेकिन मदद के रूप में कोई ठोस निर्णय नहीं लिया जाता। हर बार कुछ लोगों को गिरफ्तार करके बाद में उन्हें छोड़ दिया जाता है, जबकि स्पष्ट है कि यह एक बड़ा अपराध है। लचर कानून होने की वजह से वहां गैंग सक्रिय हैं, जो केवल हिंदू समाज को ही टारगेट करते हैं। कुछ लोगों ने बताया कि अब यहां हमेशा सुरक्षा का अभाव रहने लगा है। एक व्यापारी ने बताया कि मेरे बच्चे व माता-पिता बहुत डरे हुए हैं। वे नहीं चाहते कि मैं घर से बाहर भी निकलूं। यह तो एक परिवार की ही व्यथा है, इसके अलावा हजारों परिवार पीड़ित हैं। यदि लोग कमाने नही जाएंगे तो घर कैसे चलेगा। देश छोड़ा जाए या खुद गैंगस्टर बना जाए। यदि लोग सड़क पर आ गए तो वहां की सरकार आफत में आ सकती है। जब-जब भले लोगों का सब्र टूटता है तो प्रलय आती है और राज्य देश तो क्या सृष्टि पलट जाती है। अभी तक तो डर के मारे अपने बच्चों को स्कूल व महिलाओं को मार्केट जाने दे रहे हैं लेकिन स्थिति बदली तो दिशा व दशा विपरीत जाते समय, वक्त नहीं लगता। कनाडा की पुलिस ने हिंदू समुदाय को मिल रही धमकियों के संबंध में कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है, लेकिन समुदाय के लोगों का कहना है कि हम इससे बिल्कुल भी संतुष्ट नहीं हैं। हर बार एक ही तर्ज पर पुलिस काम करती है फिर कुछ समय बाद ढाक के तीन पात वाली तर्ज पर कहानी चलती है।

अन्य समाचार