मुख्यपृष्ठग्लैमर‘ब्रह्मास्त्र' पार्ट-२ में भी रहूंगी'- मौनी रॉय

‘ब्रह्मास्त्र’ पार्ट-२ में भी रहूंगी’- मौनी रॉय

टीवी से फिल्मों की और रुख कर चुके ऐसे बहुत कम कलाकार हैं, जो बॉलीवुड में शिखर पर पहुंचे हैं। खैर, २००६ में धारावाहिक ‘सास भी कभी बहू थी’ से अपना करियर शुरू करनेवाली मौनी रॉय ने ‘महादेव’ और ‘नागिन’ जैसे शोज के बाद पंजाबी फिल्म ‘हीरो हिटलर इन लव’ के साथ ही अक्षय कुमार की नायिका बनकर फिल्म ‘गोल्ड’ में अपने रंग भरे। अयान मुखर्जी की फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ में वैम्प का किरदार निभाकर वाहवाही बटोरनेवाली मौनी काफी सारे प्रोजेक्ट्स में व्यस्त हैं। पेश हैं, मौनी रॉय से
पूजा सामंत की हुई बातचीत के मुख्य अंश-

• आपके जीवन और करियर में क्या हो रहा है?
विवाह के बाद मेरे करियर में एक सुखद टर्न आया है। मुझे और भी अच्छे रोल्स मिलने लगे हैं। फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ में वैम्प बनने के बाद लोग मुझे वैम्प के रोल में पसंद करेंगे, इसकी मैंने कभी उम्मीद नहीं की थी। ‘कांस फिल्म फेस्टिवल’ में भी मुझे बेहद सराहा गया। मेरे लिए यह भी एक प्लेजेंट सरप्राइज था। ‘ब्रह्मास्त्र’ के लिए मुझे ‘आईफा’ पुरस्कार मिला। इस वक्त करियर में जो भी नए आयाम दिलचस्प हैं, मैं उन्हें स्वीकार कर रही हूं।

• अभिनेत्रियों में यह भी धारणा है कि विवाह और मातृत्व उनके करियर में रोड़ा है?
मेरी राय में अब इस मुद्दे के कोई मायने नहीं रहे। दीपिका पादुकोण, अनुष्का शर्मा, सोनम कपूर, आलिया भट्ट आज के दौर की सभी नायिकाएं विवाहित हैं। अनुष्का, सोनम और आलिया तो मां भी बन चुकी हैं। शादी और मां बनने के बाद आलिया का करियर तो परवान चढ़ा है। वैसे ही सोनम भी फिल्मों में पहले से अधिक सक्रिय होती नजर आ रही हैं। अनुष्का शर्मा गिनी-चुनी फिल्में कर रही हैं, लेकिन उनका प्रोडक्शन हाउस बेहद अच्छा काम कर रहा है। फिर मेरे मामले में विवाह करने से मेरा करियर क्यों रुकेगा? अब यह दोहराने की कोई आवश्यकता नहीं है कि महिलाएं जन्म के साथ ही मल्टी टास्किंग होती हैं।

• आपके पति सूरज नांबियार दुबई में बिजनेस करते हैं और आप फिल्मों के सिलसिले में ज्यादातर मुंबई में होती हैं। क्या आपके पति इस लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशन से नाराज नहीं होते?
सूरज और मेरी शादी लव कम अरेंज्ड मैरिज है। हमारी शादी होने से पहले ही वे मुझे और मेरे करियर के बारे में जानते थे और मैं भी जानती हूं कि वे अपना दुबई का बिजनेस छोड़कर हमेशा के लिए मेरे साथ मुंबई आकर सेटल नहीं हो सकते। आखिर हर किसी को अपना करियर और लाइफ पार्टनर इक्वली प्रिय होते हैं। अगर आपके पार्टनर में अंडरस्टैंडिंग है, परिपक्वता है तो वे अपने पार्टनर के करियर का भी उतना ही सम्मान करेंगे, जितना कि वो अपने करियर को तवज्जो देते हैं। मैं व्यस्त हूं अपने करियर में, लेकिन ऐसा भी नहीं है कि पति सूरज को वक्त नहीं दे पा रही हूं। दुबई और मुंबई में मुश्किल से ३ घंटे लगते हैं। कभी मैं दुबई चली जाती हूं और कभी वे मुंबई चले आते हैं।

• फिल्म ‘गोल्ड’ की असफलता से आपके करियर को कितना नुकसान पहुंचा?
यह एक सच्चाई है कि अभिनय के क्षेत्र में कलाकारों का मेहनताना उनकी आखिरी फिल्म के दृष्टिकोण से आंका जाता है, वहां यह नहीं देखा जाता कि मैंने टीवी में कितना अच्छा और विविधता भरा काम किया है। मैं टीवी की हाइएस्ट पेड एक्टर रही हूं। मैं एक अच्छी डांसर हूं। खैर, खुद की तारीफ खुद क्या करें? हां, फिल्म की असफलता का खामियाजा सभी को भुगतना पड़ता है, यह एक सच्चाई है।

• क्या यही वजह है फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ में नेगेटिव किरदार स्वीकारने की?
‘ब्रह्मास्त्र’ जैसी फिल्म सालों में एक बार बनती है। अयान मुखर्जी जैसा निर्देशक, अमिताभ बच्चन, रणबीर-आलिया, नागार्जुन, दीपिका पादुकोण, डिंपल कपाड़िया और शाहरुख खान सभी एक से बढ़कर एक कलाकार इस फिल्म का हिस्सा थे। इन सभी के साथ स्क्रीन शेयर करने का मौका बार-बार नहीं आता। सबसे अहम बात यह थी कि मेरे किरदार का नाम जुनून था। किसी को भी इस किरदार के प्रति जुनून पैदा हो वाकई यह किरदार ऐसा था। कोई नॉर्मल नेगेटिव किरदार नहीं था। मेरा मन इसलिए मोह गया और मैंने अयान का ऑफर स्वीकार किया। आपने गौर किया होगा कि मेरे इसी नेगेटिव किरदार ने मुझे पुरस्कार भी दिलाए और मुझे क्या चाहिए?

• आपकी आने वाली फिल्में कौन-सी हैं? क्या आप ‘ब्रह्मास्त्र-२’ में भी नजर आएंगी?
मेरी आनेवाली फिल्म ‘वर्जिन ट्री’ को २०२३ में रिलीज होना है लेकिन रिलीज डेट अभी फाइनल नहीं है। संभवत: ये नवंबर २०२३ में रिलीज होगी। मेरी एक और फिल्म ‘मोगुल’ भी शायद २०२३ में रिलीज होगी। ‘ब्रह्मास्त्र’ पार्ट-२ और पार्ट-३ में भी मैं रहूंगी। मेरे लिए यह बड़ी चैलेंजिंग फिल्म है, यह मौका मैं हाथ से जाने नहीं दूंगी।

 

अन्य समाचार

लालमलाल!