मुख्यपृष्ठनए समाचारआरे को कारे करके ही रहेंगे! पर्यावरण प्रेमियों का आज आंदोलन, राज्यभर...

आरे को कारे करके ही रहेंगे! पर्यावरण प्रेमियों का आज आंदोलन, राज्यभर से हजारों कार्यकर्ता पहुंचेंगे मुंबई

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई को प्राणवायु प्रदान करनेवाले आरे के जंगलों पर मेट्रो कारशेड के निर्माण के लिए एक बार फिर कुल्हाड़ी चलाई जानेवाली है। नई सरकार इसके लिए कुल्हाड़ी लेकर तैयार है। सरकार की इस अति के विरुद्ध पर्यावरणवादी संगठनों और पर्यावरण प्रेमी एकजुट होनेवाले हैं और उन्होंने ‘आरे को कारे करके ही रहेंगे’ ऐसा संकल्प लिया है। आरे को बचाने के लिए आज राज्यभर के हजारों पर्यावरण प्रेमी आंदोलन करनेवाले हैं। जब-जब पर्यावरण पर संकट आएगा तब-तब हम वापस आएंगे, ऐसी चेतावनी उन्होंने दी।

देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री रहते हुए मुंबईकरों का किसी भी प्रकार का विचार न करते हुए मेट्रो कारशेड को आरे के जंगल में बनाने का निर्णय लिया था। उसके लिए रात के अंधेरे में सैकड़ों वृक्षों का कत्ल किया गया। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में महाविकास आघाड़ी सरकार सत्ता में आने के साथ ही उन्होंने आरे कारशेड को कांजुरमार्ग में ले जाने का निर्णय तुरंत लिया था। अब अचानक सत्ता में आई एकनाथ शिंदे सरकार ने एक बार फिर आरे में कारशेड बनाने का फैसला किया है। इस मामले में सभी स्तर पर जोरदार विरोध हो रहा है। सोशल मीडिया पर पर्यावरण प्रेमियों ने नई सरकार की बखिया उधेड़ी है।

आरे के जंगल में आज होनेवाला आंदोलन ऐतिहासिक होने की संभावना है। पिकनिक पॉइंट के पास पर्यावरणवादी कार्यकर्ता और पर्यावरण प्रेमी हजारों की संख्या में जमा होंगे। सुबह ११ बजे आंदोलन की शुरुआत होगी। आरे में प्रकृति को बचाने के लिए मुंबईकरों सहित तमाम लोग बड़ी संख्या शामिल हों, ऐसा आह्वान उन्होंने किया है। पिकनिक प्वॉइंट परिसर में कई पर्यावरणवादी संगठनों ने ‘आरे बचाओ’, ऐसा बैनर भी लगाया है। विकास का विरोध नहीं लेकिन पर्यावरण ध्वस्त न करें, ऐसी मांग की गई है।

अन्य समाचार