मुख्यपृष्ठसमाचारक्या मथुरा से कटेगी  हेमा मालिनी की टिकट? 

क्या मथुरा से कटेगी  हेमा मालिनी की टिकट? 

-अरुण सिंह को प्रत्याशी बनाए जाने की चर्चा…कई दिग्गजों की टिकट कटने की संभावना

सामना संवाददाता / लखनऊ 

देश के सबसे बड़े लोकसभा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश के लिए भी भाजपा कुछ अलग करने की तैयारी में है, जिससे उसके मौजूदा सांसदों की नींद उड़ी हुई है। भाजपा के सांसदों को उनका टिकट कटने का डर सता रहा है। दरअसल, भाजपा ने परफॉर्मेंस का हवाला देते हुए कई मौजूदा सांसदों के टिकट काटने के लिए तैयारी दर्शाई है, जिससे भाजपा सांसदों की हालत खराब है, क्योंकि पिछले ५ वर्षों में भाजपा के सांसदों ने कुछ खास काम नहीं किया है। इनमें मथुरा की सांसद हेमा मालिनी के नाम पर भी संभावना जताई जा रही है। सूत्रों ने बताया है कि भाजपा नेता ठाकुर अरुण सिंह राज्यसभा सांसद है, उनका नाम गाजियाबाद से भी चल रहा था तो मथुरा से भाजपा की मौजूदा सांसद व अभिनेत्री हेमा मालिनी की जग प्रख्यात अभिनेत्री ठाकुर कंगना रनौत को प्रत्याशी के रूप में हरी झंडी मिल सकती है। कंगना रनौत यहां दो बार ब्रज भ्रमण पर आई भी थीं, लेकिन बताया जा रहा है कि कंगना का मन हिमाचल से चुनाव लड़ने का कर रहा है। सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री ठाकुर अरुण सिंह को पहले गाजियाबाद से उतारने का मन था, किंतु अब मथुरा से उन्हें भाजपा का प्रत्याशी बनाया जाएगा। सूत्रों की मानें तो मेनका गांधी, वरुण गांधी, रीता बहुगुणा जोशी, सत्यदेव पचौरी, देवेंद्र सिंह भोले, लल्लू सिंह, कौशल किशोर, रमापति राम त्रिपाठी, वरुण गांधी, राजेंद्र अग्रवाल, सत्यपाल सिंह, संतोष गंगवार, संगम लाल गुप्ता और बी एल वर्मा का टिकट इस लोकसभा चुनाव में कट सकता है।
ब्रज से तीन बार से मथुरा से सांसद रहे लोकप्रिय नेता चौधरी तेजवीर सिंह को पहले ही भाजपा की तरफ से राज्यसभा टिकट मिल गया है और उनका राज्यसभा में जाना तय हो गया है। हेमा मालिनी का टिकट कटना, इसलिए भी जरूरी बताया जा रहा है, क्योंकि वे अपनी व्यस्तता के चलते मथुरा में समय बहुत कम दे पाती हैं। हेमा मालिनी के क्षेत्र की अग्निकांड घटना में ११ लोग अपनी जान दे चुके, कई लोग आज भी घायल है और अपना उपचार करा रहे हैं किंतु आज तक हेमा पीड़ितों को हाल-चाल जानने के लिए नहीं पहुंच पाई है।

अन्य समाचार