मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबई में महिलाएं सुरक्षित नहीं! अपहरण के बाद टैक्सी में नाबालिग से...

मुंबई में महिलाएं सुरक्षित नहीं! अपहरण के बाद टैक्सी में नाबालिग से रेप

– ८ महीनों में महिला उत्पीड़न से जुड़े १,२५४ मामले दर्ज

सामना संवाददाता / मुंबई

पिछले कुछ दिनों में मुंबई में महिलाओं के साथ होने वाली हिंसा की घटनाओं में बड़ा इजाफा हुआ है। इस बीच एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। दादर से एक १४ वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर चलती टैक्सी में बलात्कार कर मालवणी में उसे छोड़ दिया गया। इस मामले में पुलिस अपहरण और पोक्सो का मामला दर्ज कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जाता है कि दादर की रहने वाली पीड़ित लड़की मंगलवार को अचानक गायब हो गई थी। जिसके बाद घर वालों ने इसकी सूचना दादर पुलिस को दी। जांच में पीड़ित लड़की मालवणी में बरामद हुई। इसके साथ ही लड़की की मेडिकल जांच किए जाने पर दुष्कर्म किए जाने की प्राथमिक जानकारी मिली, जिसके आधार पर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया।
राज्य में बढ़ी महिला उत्पीड़न की दरें
मुंबई में ८ महीनों में महिला उत्पीड़न से जुड़ी १,२५४ घटनाएं सामने आई हैं। यह अन्य शहरों की तुलना में चार गुना ज्यादा है। मुंबई के बाद दूसरे नंबर पर पुणे शहर है। पिछले ८ महीनों में पुणे में छेड़छाड़ और अभद्र व्यवहार की ३६४ घटनाएं हुई हैं। इसमें १२४ मामले दुष्कर्म के दर्ज किए गए हैं। महिला उत्पीड़न की घटनाओं में नागपुर तीसरे स्थान पर है और पिछले ८ महीनों में नागपुर में महिलाओं से छेड़छाड़ की ३०४ घटनाएं हुई हैं। सत्ता में आने के बाद शिंदे-फडणवीस सरकार ने राज्य में महिला सुरक्षा को प्राथमिकता देने का दावा किया था, लेकिन यह दावा झूठा नजर आ रहा है।
टॉप थ्री पर महाराष्ट्र
साल २०२० में लगभग २३,७०० से ३०ज्ञ् बढ़कर २०२१ में ३०,८०० से अधिक हो गई। पिछले साल की प्रवृत्ति को ध्यान में रखते हुए शिकायतों की संख्या अधिक रही और ३०,९०० अंक को पार करने के लिए वृद्धि भी हुई। पिछले साल भी अधिकतम शिकायतें तीन श्रेणियों में आईं। सिक्योर द राइट टू लिव विद डिग्निटी के लिए (३१प्रतिशत), घरेलू हिंसा से महिलाओं की सुरक्षा (२३प्रतिशत) और दहेज (१५प्रतिशत) सहित विवाहित महिलाओं के उत्पीड़न के मामले। राज्यवार ब्रेक-अप से पता चलता है कि कुल शिकायतों में से ५५ प्रतिशत यूपी से थीं, इसके बाद दिल्ली (१०प्रतिशत) और महाराष्ट्र (५ प्रतिशत) थीं।

अन्य समाचार