मुख्यपृष्ठअपराधघाव : चिंदी चीटर! सोशल मीडिया से चुराता था महिलाओं की तस्वीर...चंद...

घाव : चिंदी चीटर! सोशल मीडिया से चुराता था महिलाओं की तस्वीर…चंद रुपयों के लिए करता था ब्लैकमेल

  •  जितेंद्र मल्लाह

हर इंसान में एक कलाकार छिपा होता है। लोगों को अपना हुनर दिखाकर उनका ध्यान आकर्षित करने, तारीफ पाने की ख्वाहिश भी सभी रखते हैं। लेकिन ज्यादातर लोग हिम्मत नहीं जुटा पाते हैं और कुछ को मौका नहीं मिलता है। अपने हुनर और हुस्न से लोगों का ध्यान आकर्षित करने की चाह रखनेवाले ऐसे लोगों के लिए सोशल मीडिया काफी मददगार सिद्ध हुआ है। लेकिन लोगों में व्रेâज बढ़ने के साथ सोशल मीडिया में शैतानों की घुसपैठ भी बढ़ गई है। ऐसे ही एक चिंदी चीटर को मुंबई की एंटॉप हिल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उक्त चीटर चंद रुपयों के लिए महिलाओं की इज्जत से खिलवाड़ करता था।

सोशल मीडिया में सक्रिय महिला की तस्वीर के साथ छेड़छाड़ करके आरोपी उक्त महिला को ब्लैकमेल कर रहा था। एक ४० वर्षीय महिला ने इसकी शिकायत एंटॉप हिल पुलिस थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस ने जब मामले की जांच की और उसके बाद जो खुलासा हुआ वह बेहद चौंकाने वाला था और यह मामला खासकर सोशल मीडिया में बहुत ज्यादा सक्रिय रहनेवालों के लिए एक सीख जैसा ही है।
गांधीनगर से हुई बदमाश की गिरफ्तारी
इस मामले में पुलिस ने जांच के बाद जिस आरोपी को गिरफ्तार किया वह है तो सिर्फ १९ वर्ष का लेकिन उसके खुराफाती दिमाग ने पुलिस को हैरान कर दिया। गुजरात के गांधीनगर इलाके में रहने वाले आरोपी सूर्य प्रकाश (बदला हुआ नाम) महज हाई स्कूल  तक ही पढ़ा है लेकिन इन्स्टाग्राम से महिलाओं की तस्वीर, वीडियो आदि चुराता था, उसमें अश्लील आवाज अथवा पॉर्न फिल्म की ऑडियो क्लिप एडिट करके पीड़ित महिलाओं को ब्लैकमेल करता था।
ट्रैवल एजेंसी में मंगाता था पैसा
बताया जा रहा है कि आरोपी सूर्य प्रकाश शिकार बनी महिलाओं को मार्फ तस्वीरें वीडियो सोशल मीडिया में शेयर करने की धमकी देता था। आपत्तिजनक तस्वीर वीडियो डिलीट करने के लिए वह बेहद मामूली रकम मांगता था, जो कि ५०० रुपए से ५ हजार रुपए तक होती थी। वह पैसे क्यूआर कोड के जरिए एक गुजरात की ट्रैवल एजेंसी में मंगवाता था। इसके बाद वहां से पैसों को खुद ले लेता था। उसने ट्रैवल एजेंसी वाले को बताया कि उसके पास बैंक खाता नहीं है और वह वेतन के लिए ट्रैवल एजेंसी वाले से मदद के बहाने उसके क्यूआर कोड का उपयोग कर रहा था। इसके बदले ट्रैवल एजेंसी वाले को उसने प्रति लेन-देन ५० रुपए देने का करार किया था। हालांकि पुलिस ने आरोपी सूर्य प्रकाश को गुजरात के गांधीनगर स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर लिया।
अपने समुदाय की ही महिलाओं को बनाता था निशाना
आरोपी सूर्य प्रकाश अपने समुदाय की ही महिलाओं को निशाना बनाता था। पुलिसिया जांच में पता चला है कि आरोपी ने अकेले एंटॉप हिल में करीब २२ महिलाओं को शिकार बनाया था। आशा व्यक्त की जा रही है कि उसने इसी तरह से कई दूसरे इलाके में रहनेवाली कई अन्य महिलाओं को भी शिकार बनाया होगा। देश भर में उसका शिकार बनी महिलाओं की संख्या ५० से अधिक होगी, ऐसा पुलिस का अनुमान है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईटी अधिनियम की धारा ६७-ए के तहत मामला दर्ज करके उसे गिरफ्तार किया है। अदालत ने उसे २९ जुलाई तक के लिए पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है।

अन्य समाचार