मुख्यपृष्ठनए समाचारयोगी के मंत्री ने ट्रेन छूटने के डर से स्टेशन के अंदर...

योगी के मंत्री ने ट्रेन छूटने के डर से स्टेशन के अंदर घुसाई गाड़ी …दिव्यांगों पर भी दया नहीं दिखाई!

सामना संवाददाता / लखनऊ
योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह अपनी हरकत की वजह से सुर्खियों में हैं। पशुधन मंत्री को दिव्यांगों पर तनिक भी दया नहीं आई और रेलवे स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए बनी रैंप पर अपनी कार चढ़ाते हुए सीधे प्लेटफॉर्म पर पहुंचा दी। गनीमत रही या कि उस दौरान कोई दिव्यांग यात्री वहां से नहीं गुजर रहा था। बता दें कि बुधवार को योगी सरकार में पशुधन मंत्री ट्रेन पकड़ने के लिए लेट हो गए थे। बताया गया कि लखनऊ में चारबाग रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर ४ पर हावड़ा-अमृतसर पंजाब मेल आ चुकी थी। ऐन वक्त पर स्टेशन पहुंचे मंत्री धर्मपाल सिंह को ट्रेन छूटने का डर था। ट्रेन छूटने के डर से उन्होंने अपनी कार सीधे प्लेटफॉर्म के अंदर घुसा दी।
अचानक प्लेटफॉर्म में कार की एंट्री से मौके पर मौजूद यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया। ट्रेन पकड़ने की जल्दबाजी में मंत्री की कार को दिव्यांगों के लिए के बने रैंप पर चढ़ाते हुए सीधे प्लेटफॉर्म नंबर एक से सटे एस्केलेटर तक ले जाया गया। मंत्री के उतरने पर कार को रोक लिया गया। अचानक रेलवे स्‍टेशन के भीतर कार घुसने से यात्रियों में अफरातफरी का माहौल बन गया। मंत्री की कार वापस जाने के बाद माहौल सामान्‍य हुआ। विवाद बढ़ने के बाद मंत्री की ओर से दी गई सफाई में कहा गया कि देर और बारिश होने के कारण कार को एस्केलेटर तक ले जाया गया। पुलिस के मुताबिक, मंत्री धर्मपाल सिंह की कार को रैंप पर से प्लेटफॉर्म पर चढ़ाते हुए एस्केलेटर तक ले जाने की व्यवस्था की गई।

अखिलेश यादव ने कसा तंज
अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा है, ‘अच्छा हुआ ये बुलडोजर से स्टेशन नहीं गए थे।’ एक अन्य ने लिखा, ‘जब विक्रम चांद पर लैंड कर सकता है तो क्या यूपी के मंत्री जी की गाड़ी सीधे प्लेटफॉर्म पर लैंड नही कर सकती?’ एक अन्य ने लिखा, ‘शुक्र है कि किसी यात्री पर कार नहीं चढ़ा दी, अगर चढ़ा देते तो भी कोई क्या कर लेता, सारे यात्रियों को मंत्री जी को सम्मान समारोह में श्रीफल और शॉल देकर सम्मानित करना चाहिए।’

अन्य समाचार