मुख्यपृष्ठनए समाचारनियम करोगे भंग... भरोगे दंड! प्लास्टिक इस्तेमाल पर होगी जेल

नियम करोगे भंग… भरोगे दंड! प्लास्टिक इस्तेमाल पर होगी जेल

  • आयुक्त ने दिए सख्त प्रतिबंध के निर्देश

सामना संवाददाता / ठाणे
प्लास्टिक बंदी के बावजूद यदि कोई आम नागरिक प्लास्टिक का इस्तेमाल कर रहा है तो उस नागरिक को यह रोक देना चाहिए। क्योंकि ठाणे मनपा ने सख्त कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। इस कार्रवाई के तहत अब प्लास्टिक का इस्तेमाल करते पाए जानेवाले आम नागरिकों को ५०० रुपए का दंड भरना पड़ सकता है। ठाणे मनपा के अतिरिक्त आयुक्त ने प्लास्टिक बंदी को सफल करने के लिए यह निर्णय लिया है। वहीं यदि दुकानदार, फल एवं सब्जी विक्रेता, व्यापारी प्लास्टिक का इस्तेमाल करते पाए जाते हैं तो पहली बार पांच हजार रुपए का जुर्माना, दूसरी बार १० हजार रुपए और तीसरी बार २५ हजार रुपए व तीन महीने की कैद होगी।
बता दें कि ठाणे मनपा क्षेत्र में सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध के संबंध में केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार मनपा आयुक्त डॉ. विपिन शर्मा ने प्रभावी क्रियान्वयन के आदेश दिए हैं। इस संबंध में अपर आयुक्त (२) संजय हेरवाड़े ने प्रदूषण नियंत्रण विभाग के कर्मचारियों, सभी स्वच्छता निरीक्षकों को प्रत्येक प्रभाग समिति में प्लास्टिक पर सख्ती से प्रतिबंध लगाने का निर्देश दिया है। सरकार द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने और प्लास्टिक का उपयोग करनेवालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया। उन्होंने इस दौरान कहा कि केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा अगस्त २०२१ में अधिसूचित संशोधित प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन नियम २०२१ के अनुसार एकल उपयोगवाली प्लास्टिक वस्तुओं का उपयोग प्रतिबंधित है।
इन प्लास्टिक पर प्रतिबंध है
सजावट के लिए प्लास्टिक, पॉलीस्टाइरिन (थर्मोकोल) कैंडी बॉक्स, निमंत्रण कार्ड और सिगरेट के पैकेट के लिए प्लास्टिक रैप, प्लास्टिक स्टिक के साथ झुमके, गुब्बारे के लिए प्लास्टिक की छड़ें, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, आइसक्रीम स्टिक प्लेट, कप, ग्लास, कटलरी, ट्रे, स्टिरर , १०० माइक्रोन से कम मोटाई के पीवीसी बैनर प्रतिबंधित हैं। इसके अलावा महाराष्ट्र प्लास्टिक और थर्मोकोल अधिसूचना २०१८ के तहत कुछ चीजों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह कंपोस्टेबल प्लास्टिक (कचरा और नर्सरी बैग को छोड़कर), सभी प्रकार के प्लास्टिक बैग (कैरी बैग, गैर-बुने हुए बैग सहित) को हैंडल, व्यंजन, कटोरे, कंटेनर आदि के साथ और बिना प्रतिबंधित है।
प्रभाग समिति अनुसार टीम का गठन
अपर आयुक्त ने कहा कि सरकार के प्लास्टिक कचरा प्रबंधन नियम २०२१ के अनुसार सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर प्रतिबंध को सख्ती से लागू करने के लिए प्रत्येक प्रभाग समिति में बड़ी टीमों का गठन किया गया है। इसमें प्रदूषण नियंत्रण विभाग के कर्मचारी और स्वच्छता निरीक्षण शामिल हैं। ये टीमें शहर में अचानक छापेमारी कर प्लास्टिक का इस्तेमाल करनेवाले प्रतिष्ठानों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करेंगी।

अन्य समाचार