मुख्यपृष्ठनए समाचारबिना अनुमति बजाया गाना तो भरना पड़ेगा जुर्माना!

बिना अनुमति बजाया गाना तो भरना पड़ेगा जुर्माना!

सामना संवाददाता / मुंबई
शादियों, सामाजिक कार्यक्रमों, सोसायटियों और सार्वजनिक स्थानों पर बिना इजाजत गाना बजाने पर कार्रवाई हो सकती है। फोनोग्राफिक परफॉर्मेंस और नोवेक्स नाम की दो कंपनियों को हिंदुस्थान समेत दुनिया भर की ज्यादातर म्यूजिक कंपनियों ने गाने बजाने का लाइसेंस दिया हुआ है। इन कंपनियों को बिना लाइसेंस लिए गाने बजाने वालो पर कार्रवाई का अधिकार दिया गया है। हाई कोर्ट ने यह अहम पैâसला देते हुए कहा है कि यह अधिकार वैध है। इसी के साथ अब डी.जे. और साउंड वालों को गाने बजाने से पहले इन कंपनियों से लाइसेंस लेना होगा। यह नियम फाइव स्टार होटल, रेस्टोरेंट और पब पर भी लागू होगा। ऐसा नहीं करने पर इन्हें जुर्माना देना पड़ सकता है।
बता दें कि इन दोनों कंपनियों ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। याचिका में सौ से अधिक पांच सितारा होटल, पब और रेस्तरां को प्रतिवादी बनाया गया था।

प्रतिवादी का दावा था कि इन दोनों कंपनियों के पास गाने का कॉपीराइट नहीं है। प्रतिवादियों ने कहा कि यदि उनकी अनुमति के बिना गाने बजाए जाते हैं तो वे लोग किसी पर कार्रवाई नहीं कर सकते। उनके पास अधिकार नहीं है। प्रतिवादियों के इस दावे को कोर्ट ने खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि इन कंपनियों के पास बिना लाइसेंस लिए गाने बजाने वाले के खिलाफ कार्रवाई करने का अधिकार है। इसलिए इन कंपनियों के पास पंजीकृत गाने उनकी अनुमति के बिना नहीं बजाए जा सकते। इस पैâसले से यह साफ हो गया है कि जिन जगहों पर गाने बजाकर पैसा कमाया जा रहा है, वहां कंपनी कार्रवाई कर सकती है। बता दें कि ज्यादातर म्यूजिक कंपनियों ने इन दोनों कंपनियों को अपने गाने बजाने का लाइसेंस देने का अधिकार दिया है। इसके मुताबिक, होटल, पब और रेस्टोरेंट में गाने बजाने के लिए इन कंपनियों से लाइसेंस लेने होंगे। कुछ लोग बिना लाइसेंस लिए ही गाने बजाते हैं। कुछ लोग बिना लाइसेंस नवीनीकरण कराए गाने बजाते हैं। सार्वजनिक स्थानों पर गाने बजाने के लिए इन कंपनियों का लाइसेंस भी अनिवार्य है, लेकिन कंपनी से लाइसेंस लिए बिना ही सार्वजनिक स्थानों पर गाने बजाए जाते हैं। ऐसे में उन पर कार्रवाई हो सकती है।

अन्य समाचार