मुख्यपृष्ठनए समाचारआईएसआईएस में भर्ती होने जा रहे एक कश्मीरी को दबोचा

आईएसआईएस में भर्ती होने जा रहे एक कश्मीरी को दबोचा

– जम्मू सीमा पर घुसपैठिया ढेर करने के बाद बीएसएफ अलर्ट

सुरेश एस डुग्गर / जम्मू

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने गुरुवार को इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड सीरिया से जुड़ने जा रहे एक स्थानीय युवक वसीम अहमद शेख को गिरफ्तार कर लिया। वसीम को कश्मीर में ऐसे युवकों को चिह्नित करने का जिम्मा सौंपा गया था, जो आईएसआईएस से जुड़े रहे कश्मीर के पुराने संगठन अंसार उल गजवा ए हिंद (एयूजीएच) में शामिल होने के लिए तैयार हों। दूसरी ओर जम्मू सीमा पर एक घुसपैठिए को ढेर करने के बाद बीएसएफ का कहना है कि पाक सेना सीमा पर लूप होलों की तलाश कर रही है।
पुलिस ने बताया कि वसीम अहमद शेख जिला बडगाम के अंतर्गत बीरवाह का रहने वाला है। वह इंटरनेट मीडिया के जरिए पाकिस्तान व अन्य मुल्कों में सक्रिय आतंकी हैंडलरों के साथ लगातार संपर्क में था। उससे पूछताछ से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वसीम अहमद शेख कट्टर जिहादी मानसिकता रखता है। वह कोई तर्क नहीं मानता। पुलिस प्रवक्ता ने वसीम अहमद शेख की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि तीन दिन पहले एक मुखबिर से पता चला था कि आईएसआईएस ने कश्मीर में एयूजीएच का नेटवर्क फिर से तैयार करने का षडयंत्र रचा हुआ है। इसके लिए वह नए सिरे से कैडर की भर्ती की कोशिश हो रही है।
इस बीच जम्मू सीमा पर घुसपैठिए को ढेर करने के मामले को लेकर बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर के आईजी डीके बूरा ने कहा कि हमारे जवानों ने सीमा पार कुछ हलचल देखी और उस पर नजर रखी। उसने (घुसपैठिए ने) पहले सीमा पार की और जब उसने अंदर घुसने की कोशिश की, तो हमारे जवानों ने उसे चुनौती दी और रुकने को कहा, लेकिन वह सीमा की ओर आता चला गया। इसके बाद जवानों ने गोलीबारी की। घुसपैठिए से कोई बड़ी बरामदगी नहीं हुई है। ऐसा लगता है कि उसे सिर्फ रेकी के लिए भेजा गया था।
सूत्रों के अनुसार, की बीएसएफ के अधिकारी भी सीमा पर पहुंचकर स्थिति का जायजा ले रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान की पोस्ट चेक भूरा के सामने से घुसपैठ करवाई जा रही थी। पाक की ओर से अब तक कोई जवाबी कार्रवाई की सूचना नहीं मिली है और कोई अन्य मामला भी सामने नहीं आया है।

अन्य समाचार

कुदरत

घरौंदा