मुख्यपृष्ठसमाचारमनपा देख रही तमाशा!

मनपा देख रही तमाशा!

– मुंबई के अधिकतर स्काईवॉक पर अवैध हॉकरों का कब्जा

– मनपा कार्रवाई करने में हो रही असहाय

संदीप पांडेय / मुंबई

मनपा इन दिनों ‘डीप क्लीन ड्राइव’ पर फोकस कर रही है। वो इस वक्त इस मुहिम के अलावा किसी अन्य चीजों पर ध्यान नहीं देना चाहती है। ऐसा हम नहीं, बल्कि मुंबईकरों का कहना है। मुंबई के अधिकतर स्काईवॉकों पर अवैध हॉकरों ने अपना कब्जा जमा लिया है। स्काईवॉकों पर ये अवैध हॉकर बिना किसी डर के धड़ल्ले से अपनी दुकान चला रहे हैं। इनके जगह घेरने की वजह से स्काईवॉकों पर आने-जाने वाले यात्रियों और राहगीरों को चलने में परेशानियां हो रही हैं, जबकि मनपा इन पर कोई कार्रवाई करने को तैयार नहीं है। मनपा के इस रवैए को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि ‘डीप क्लीन ड्राइव’ के चक्कर में मनपा को स्काईवॉकों पर चलने वाले लोगों को होने वाली मुश्किलों से फर्क नहीं पड़ता है।
आज मुंबई के अधिकतर स्काईवॉकों पर अवैध हॉकरों का बोलबाला है। हॉकर यहां फूल से लेकर सब्जियां तक बेच रहे हैं। स्काईवॉकों पर दोनों तरफ ये अपनी दुकानें सजाए बैठे है। इतना ही नहीं, स्काईवॉकों पर तो कुछ लोगों ने अपना बसेरा भी बना रखा है। स्काईवॉकों पर लोग रहने से लेकर खाना-पीना तक भी कर रहे हैं। अब सवाल यह है कि जब स्काईवॉकों पर अवैध हॉकरों ने कब्जा जमाया है तो पैदल चलने वाले यात्री और राहगीर कहां से आएंगे-जाएंगे। आश्चर्य की बात तो यह है कि मनपा को इन बातों की खबर ही नहीं है।
मनपा के इस रवैए को लेकर मुंबईकरों में काफी रोष है। स्काईवॉकों पर आने-जाने वाले नागरिकों का कहना है कि अब वह दिन दूर नहीं, जब हम पैदल चलने वालों से स्काईवॉक छिन जाएगा और इस पर केवल अवैध हॉकरों का ही राज होगा।
स्काईवॉकों पर अवैध हॉकरों के कब्जे को लेकर जब नागरिकों से बातचीत की गई तो सुरेंद्र पाटील नामक एक नागरिक ने बताया कि मैं रोज कांदिवली-पूर्व में बने स्काईवॉक से आता-जाता हूं। इसे कुछ लोगों ने अपना घर बना लिया है। स्काईवॉक पर मुझे रोजाना बच-बचाकर आना-जाना पड़ता है। इस पर बड़े-बूढ़ों के अलावा स्कूली बच्चे भी गुजरते हैं, जिन्हें यह डगर काफी मुश्किलों भरी लगती है। अब मनपा अधिकारी काम नहीं करना चाहते हैं। नागरिक ने दावा करते हुए आगे कहा कि मनपा किसी भी काम को ठीक तरीके से नहीं कर रही है। वो नागरिकों के प्रति गैर जिम्मेदार हो रही है।

अन्य समाचार

कुदरत

घरौंदा