मुख्यपृष्ठसमाज-संस्कृतिसोशल सर्विस लीग की 113वीं शताब्दी धूमधाम से मनाई गई

सोशल सर्विस लीग की 113वीं शताब्दी धूमधाम से मनाई गई

सामना संवाददाता / मुंबई

सोशल सर्विस लीग की 113वीं शताब्दी धूमधाम से मनाई गई। समारोह की शुरुआत एनकेजीएसबी बैंक के उपाध्यक्ष शांतेश वर्टी, जो सम्मानित अतिथि थे, उनके द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ हुई। इस कार्यक्रम में सूचना का अधिकार कार्यकर्ता अनिल गलगली और मास्टरशेफ स्वानिल वाडेकर भी मौजूद थे।
वर्षगांठ के अवसर पर संगठन के विभिन्न विभागों में 25 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले कर्मचारियों को सम्मानित किया गया। पुरस्कृत शिक्षकों और विशेष स्टाफ को भी पुरस्कार दिए गए। इस प्रशिक्षण वर्ग की प्रमुख प्राजक्ता सावंत को भी भारत में 1925 में शुरू किए गए पहले नाम जोशी सामाजिक कार्य वर्ग की 100वीं वर्षगांठ मनाने के लिए सम्मानित किया गया। प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए गये। शांतेश वर्ती ने अपने भाषण में कहा कि इस संस्थान में अतिथि के रूप में सम्मानित होना सौभाग्य की बात है, क्योंकि इतिहास में अध्ययन करने वाले प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने इस संस्थान में काम किया है। उन्होंने संस्था के पुनर्निर्माण कार्य में सहयोग देने का भी वादा किया। संस्था के अध्यक्ष आनंद माईनकर ने संस्था की सफलता में योगदान देने वाले सभी लोगों के प्रति आभार जताया। इस अवसर पर संस्था के विजय वर्टी, प्रकाश कोंडूरकर, उमा शेट्टी, मदन देसाई, हेमंत सामंत उपस्थित थे। संस्थान की नई गतिविधियों की जानकारी सीबीएसई की प्राचार्या अपेक्षा चौधरी ने दी। अंत में संस्थान के सेमी इंग्लिश एवं सीबीएसई स्कूलों के विद्यार्थियों एवं शिक्षकों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर कार्यक्रम को और अधिक रोचक बना दिया। समारोह का समापन प्राचार्य दिलीप पांचांगने के धन्यवाद-ज्ञापन और राष्ट्रगान के गायन के साथ हुआ।

अन्य समाचार

अब तक