मुख्यपृष्ठनए समाचारगुजरात भाजपा में २ फीसदी ‘कटमनी' ...विधायक ने खुलेआम किया स्वीकार

गुजरात भाजपा में २ फीसदी ‘कटमनी’ …विधायक ने खुलेआम किया स्वीकार

सामना संवाददाता / अमदाबाद 
एक समय पश्चिम बंगाल में प्रचलित ‘कटमनी’ को लेकर पीएम नरेद्र मोदी ने सार्वजानिक मंच से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा था, लेकिन अब ‘कटमनी’ का चलन उन्हीं के गृह राज्य गुजरात में पार्टी के अंदर ही फल-फूल रहा है। इस बात का खुलासा खुद सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के विधायक रमेशभाई छोटूभाई पटेल ने किया है। एक सार्वजनिक कार्यक्रम से रमेशभाई छोटूभाई पटेल ने सरकारी ठेकेदारों को हिदायत देते हुए कहा कि वे भाजपा व्यवस्था के भीतर आवश्यक २ प्रतिशत कमीशन के अलावा किसी को भी पैसा न दें। रमेशभाई छोटूभाई पटेल के इस बयान से ऐसा प्रतीत होता है कि भाजपा तंत्र के भीतर ‘२ प्रतिशत’ कमीशन प्रणाली मौजूद है। ‘द न्यू इंडियन एक्सप्रेस’ की खबर के मुताबिक, गुजरात के नवसारी जिले के विजलपोर इलाके में कुछ दिन पहले एक झील सौंदर्यीकरण परियोजना पर चर्चा से संबंधित एक सार्वजनिक मंच पर भाजपा विधायक के एक बयान ने पार्टी में भ्रष्टाचार मौजूद होने की पुष्टि की। उन्होंने सरकारी ठेकेदारों को हिदायत दी कि भाजपाई व्यवस्था के भीतर आवश्यक २ प्रतिशत कमीशन के अलावा किसी को पैसा न दें। रिपोर्ट के अनुसार, पटेल ने ठेकेदारों से कहा कि झील सौंदर्यीकरण परियोजना के लिए स्वीकृत ४ करोड़ रुपए लोगों के बीच नहीं बांटे जाने चाहिए, साथ ही कहा कि निर्धारित ‘२ प्रतिशत’ से अधिक कोई भी अंशदान अस्वीकार्य है। पटेल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस ने कहा कि भाजपा खुलेआम भ्रष्टाचार में लिप्त है। इसके अलावा उन्होंने जोर देकर कहा कि पहले भाजपा के भ्रष्ट कार्यों को ‘छिपाया’ जाता था, लेकिन अब इसके नेताओं द्वारा उन्हें ‘खुलेआम स्वीकारा’ जाता है।

अन्य समाचार

अब तक