मुख्यपृष्ठखेलकाबिले तारीफ अजिंक्य रहाणे

काबिले तारीफ अजिंक्य रहाणे

अजिंक्य रहाणे इन दिनों मुंबई की कप्तानी कर रहे हैं। मुंबई ने उनकी कप्तानी में रणजी ट्रॉफी के फाइनल में जगह बना ली है। बहुत संभव है कि मुंबई बुधवार को ही ट्रॉफी भी जीत ले। लेकिन अभी बात ट्रॉफी नहीं, रहाणे की सज्जनता की है। अजिंक्य रहाणे रणजी फाइनल के तीसरे दिन जब ७३ के स्कोर पर थे तब हर्ष दुबे की एक गेंद उनके बल्ले का बारीक किनारा लेती हुई विकेटकीपर के पास गई। विकेटकीपर अक्षय वाडकर ने इसे आसानी से लपक लिया। लेकिन यह क्या अभी गेंद वाडकर के दस्ताने में समाई ही थी कि अजिंक्य रहाणे बिना अंपायर के इशारे का इंतजार किए पैवेलियन की ओर चल पड़े।

अन्य समाचार

अब तक