मुख्यपृष्ठनए समाचारभाजपा ने घोषित किए मुंबई में दो प्रत्याशी ... भूमिपुत्रों को किया...

भाजपा ने घोषित किए मुंबई में दो प्रत्याशी … भूमिपुत्रों को किया नजरअंदाज!

गोपाल शेट्टी का पत्ता साफ
पीयूष गोयल को मिली उत्तर मुंबई की टिकट

उछलकूद के बाद भी किरीट की कटिंग
मिहिर कोटेचा बने उत्तर-पूर्व के प्रत्याशी
सामना संवाददाता / मुंबई
आखिर भाजपा ने लोकसभा उम्मीदवारों की अपनी दूसरी लिस्ट जारी कर दी है। इस लिस्ट में भाजपा ने मुंबई के दो प्रत्याशी घोषित किए हैं। ये हैं पीयूष गोयल और मिहिर कोटेचा। इन दोनों को टिकट देकर भाजपा ने भूमिपुत्रों को नजरअंदाज कर दिया है। हैरानी की बात यह है कि भाजपा ने इस बार उत्तर मुंबई के दिग्गज नेता गोपाल शेट्टी का पत्ता साफ कर दिया है। उनकी जगह पीयूष गोयल को टिकट दिया गया है। दूसरी तरफ पिछले कई साल से उछलकूद कर रहे किरीट सोमैया की भी कटिंग कर दी गई है। उत्तर-पूर्व मुंबई से टिकट के लिए किरीट जी-जान लगाए हुए थे। वहां से भाजपा ने मिहिर कोटेचा को प्रत्याशी बनाया है।
भाजपा ने अपनी दूसरी लिस्ट में महाराष्ट्र के २० प्रत्याशियों के नाम जाहिर किए हैं। जहां तक मुंबई का सवाल है तो ये दोनों प्रत्याशी बाहरी हैं। इससे भूमिपुत्र तो नाराज हो ही गए, गोपाल शेट्टी का टिकट कटने से दक्षिण भारतीय भी नाराज हो गए हैं। भाजपा ने महाराष्ट्र में जो अन्य प्रत्याशियों के नाम घोषित किए हैं, उनमें नागपुर से नितिन गडकरी, चंद्रपुर से सुधीर मुनगंटीवार, जालना से रावसाहेब दानवे, नंदुरबार से डॉ. हिना विजयकुमार गावित और बीड से पंकजा मुंडे का नाम प्रमुख हैं। गौरतलब है कि भाजपा ने १९५ प्रत्याशियों की जो पहली लिस्ट जारी की थी, उसमें नितिन गडकरी का नाम शामिल नहीं था। इस पर मीडिया व सोशल मीडिया में काफी चर्चाएं भी हुई थीं। वीडियो ने लिया विकेट! -पेज २

वीडियो ने लिया विकेट! …ये रही किरीट सोमैया का टिकट कटने की असली वजह

सामना संवाददाता / मुंबई
भाजपा ने कल अपने लोकसभा प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट जारी कर दी। इसमें मुंबई के दो प्रत्याशी घोषित किए गए हैं। इसमें किरीट सोमैया को उत्तर-मुंबई से टिकट न मिलना आश्चर्यजनक है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि किरीट ने पिछली बार टिकट कटने के बाद पूरे ५ वर्षों तक जबरदस्त मेहनत की थी। मगर राजनीतिक गलियारों में ऐसी चर्चा है कि एक वीडियो ने किरीट का विकेट ले लिया।
गौरतलब है कि पिछली बार टिकट कटने के बाद पूरे पांच वर्षों तक तमाम तरह के झूठे घोटालों की फाइल लेकर यहां-वहां बयानबाजी करके किरीट ने भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को प्रभावित करने में कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखी थी। ऐसा लगता था मानो मुंबई व महाराष्ट्र में भाजपा का सिर्फ एक ही नेता बचा है। मगर किरीट की सारी मेहनत पर पानी फिर गया। गौरतलब है कि कुछ महीने पहले किरीट का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे अश्लील मुद्रा में नजर आ रहे थे। किरीट की इस हरकत पर खुद भाजपा के भीतर महिला नेताओं ने खुलकर विरोध किया था। माना जा रहा है कि भाजपा ऐसे नेता को टिकट देकर कोई रिस्क नहीं लेना चाहती थी, इसलिए उनका टिकट कट गया।

गडकरी-पंकजा को मिला टिकट
काफी इंतजार के बाद आखिर नितिन गडकरी और पंकजा मुंडे को टिकट मिल ही गया। गडकरी सरकार में रहते हुए भी अपनी ही सरकार की आलोचना करने से बाज नहीं आते, इसलिए उनके टिकट पर संशय था। पंकजा मुंडे भी भाजपा में अपनी उपेक्षा से काफी नाराज चल रही थीं और उनके भाजपा छोड़ने की भी खबरें आई थीं। मगर पार्टी ने दोनों को टिकट दे दिया।

अन्य समाचार

अब तक