मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासंपादक के नाम पत्र :  लिफ्ट घर बना ‘मूत्रालय'

संपादक के नाम पत्र :  लिफ्ट घर बना ‘मूत्रालय’

धन्य हो भाजपा सरकार जो हमेशा स्वच्छता की दुहाई देती है, परंतु लोगों को सुविधा देने में पीछे है। इसका एक नजारा ठाणे जिले में स्थित विट्ठलवाड़ी-पश्चिम रेलवे स्टेशन परिसर में बने लिफ्ट घर को देखा जा सकता है। इस लिफ्ट के बगल में ही लोग पेशाब करते हैं, जिसकी वजह से यहां हमेशा दुर्गंध का वातावरण बना रहता है। लिफ्ट का उपयोग करने वाले लोग नाक पर रुमाल रखकर लिफ्ट का प्रयोग करते हैं। इस रेलवे स्टेशन के सामने चिक्की, बिस्किट के साथ अन्य तरह के सामान बेचनेवाली सैकड़ों दुकानें हैं। समान लेने आने वाले लोग लिफ्ट बॉक्स, जो कि सुनसान जगह पर बना है, उसकी आड़ में पेशाब करते हैं। पिछले कई दिनों से यहां पेशाब करने के कारण लिफ्ट का घर ‘पेशाबघर’ की तरह से बदबू युक्त हो गया है। बदबू, गंदगी के कारण बहुत कम लोग लिफ्ट का उपयोग करते हैं। अब सवाल यह है कि उल्हासनगर मनपा प्रशासन को यह चीज नजर क्यों नहीं आ रही है? क्या यह उसका काम नहीं है कि वह विठ्ठलवाड़ी स्टेशन के समीप एक ‘मूत्रालय’ की व्यवस्था करे, जिससे लोग खुले में पेशाब न करें। मनपा के स्वास्थ्य विभाग को चाहिए कि ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को जमीनी स्तर पर लागू करे और स्वच्छता रखने के लिए लिफ्ट परिसर को गंदा करनेवालों को रोकने का प्रयास करें, साथ ही लिफ्ट परिसर को गंदा करने वाले लोगों को दंडित भी करे।
डी.पी.मिश्रा, उल्हासनगर

अन्य समाचार

अब तक