मुख्यपृष्ठसमाचारतवी नदी को हो रहा है नुकसान : शिवसेना

तवी नदी को हो रहा है नुकसान : शिवसेना

सामना संवाददाता / जम्मू

मंदिरों के शहर, जम्मू में सूर्यपुत्री तवी नदी के तट पर बने ‘हर की पौड़ी’ (छोटा हरिद्वार) मंदिर के आसपास हो रहे अवैध खनन से पूरा क्षेत्र प्रभावित हो रहा है, जिससे यहां आने वाले श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाएं आहत हो रही है। यह कहना है शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) जम्मू-कश्मीर इकाई प्रमुख मनीष साहनी का। पार्टी प्रदेश प्रमुख मनीष साहनी ने पत्रकारों से बातचीत में सूर्यपुत्री तवी नदी में सक्रिय अवैध खनन माफिया को इस गैर कानूनी धंधे से बाज आने की चेतावनी दी। साहनी ने कहा कि उन्हें लगातार मिल रही शिकायतों पर गत दिवस उनके नेतृत्व में पार्टी नेताओं के एक दल ने भव्य ‘हर की पौड़ी’ मंदिर में पहुंचे, जहां उन्होंने पाया कि तवी नदी व मंदिर के करीब अवैध खनन से तवी नदी के पानी का बहाव प्रभावित हो रहा है। सीढ़ियों के करीब सूखा होने से यहां आने वाले हजारों श्रद्धालुओं, पर्यटकों की धार्मिक भावनाओं को भारी ठेस पहुंच रही है। साहनी ने बताया कि मंदिर के महंत श्री महादेव सरस्वती जी भी मंदिर के करीब अवैध खनन पर भारी रोष में हैं। उनका कहना है श्रद्धालुओं की निराशा को दूर करने के लिए उन्हें लगभग हर महीने २०-२५ हजार रुपए खर्च कर जेसीबी की मदद लेकर पानी के बहाव को मंदिर की तरफ मोड़ना पड़ता है, इसके साथ ही हर की पौड़ी की तरफ आने वाली सड़कों की हालात काफी दयनीय है। शहर के बाहरी इलाके तथा तवी नदी के तट पर स्थित मंदिर की सुरक्षा में इक्का-दुक्का सुरक्षाकर्मियों की तैनाती पर भी सवाल उठाए।

अन्य समाचार

अब तक