मुख्यपृष्ठनए समाचारबूंद-बूंद के लिए तरसता बदलापुर! ... चुनावी घोषणाओं और भूमिपूजन में मस्त...

बूंद-बूंद के लिए तरसता बदलापुर! … चुनावी घोषणाओं और भूमिपूजन में मस्त शिंदे सरकार को नहीं जनता की सुध

सामना संवाददाता / बदलापुर
एक तरफ बदलापुर में इन दिनों पानी की धीरे-धीरे किल्लत बढ़ती जा रही है। बदलापुर के लोग वर्षों से पीने के पानी को लेकर परेशान दिखाई दे रहे हैं, वहीं दूसरी ओर यदि सरकार लोकसभा चुनाव को देखते हुए घोषणा व भूमिपूजन करने में लगी है। बदलापुर में आए दिन पानी को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू हैं। इसके बावजूद बदलापुर में पर्याप्त पानी की पूर्ति नहीं हो रही है, जिसको लेकर अंंबरनाथ-बदलापुर के लोगों में भारी असंतोष दिखाई दे रहा है।
बदलापुर की आबादी दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। चारों तरफ इमारतों का जंगल बनता दिखाई दे रहा है। बदलापुर की जनसंख्या करीबन तीन लाख से ऊपर पहुंच गई हैं। बढ़ती जनसंख्या के चलते पीने के पानी की धीरे-धीरे अकाल जैसी स्थिति पैदा हो गई है। पीने के पानी को लेकर बदलापुर के लोगों के साथ ही बिल्डर तक परेशान हैं। बिल्डिंग में भरपूर पानी है इस तरह का झूठ बोलकर फ्लैट बेचे जा रहे हैं। लोगो में आक्रोश बढ़ रहा है। लोकसभा चुनाव सामने देखकर शिंदे सरकार के मंत्री ने एक अप्रैल को पांच एमएलडी पानी देने की घोषणा की है। बदलापुरवासियों को यह चिंता सता रही है कि चुनाव के पहले ऐसी घोषणा कर शिंदे सरकार बदलापुर के लोगों को कहीं `अप्रैल फूल’ न बना दें। बदलापुर की कई बस्तियों के लोगों को आज भी टैंकर के पानी पर निर्भर रहना पड़ रहा है। अंंबरनाथ तहसील में दो शहर अंंबरनाथ व बदलापुर आते हैं।

गंदा पानी पीने को मजबूर पनवेलवासी!
नानोशी ग्राम पंचायत के नागरिकों ने सोमवार को पनवेल पंचायत समिति कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन कर स्वच्छ पानी की मांग की। नागरिकों ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने `जल जीवन मिशन’ के तहत ग्राम पंचायत क्षेत्र में जल्द से जल्द जलापूर्ति के लिए काम सौंपा है, लेकिन कॉन्ट्रैक्टर तीव्र गति से काम नहीं कर रहा है। यही कारण है कि अब तक गांव में पानी नहीं पहुंचा है और लोग गंदा पानी पीने के लिए मजबूर हैं।

ये सारी घोषणा, उद्घाटन लोकसभा चुनाव को देखकर की जा रही हैं। शिंदे सरकार के लोग जुमलेबाज हैं। चुनाव को सामने देखकर लोगों को मूर्ख बनाने का काम शुरू हैं। बदलापुर की जनता सब जानती है। उनको पता हैं पानी को लेकर यह पहली बार घोषणा नहीं की है। कई बार पानी को लेकर मंत्रियों का अभिनंदन किया गया है। इसके बावजूद पानी के लिए प्यासे लोगों के साथ घोषणा की जा रही है।
-किशोर पाटील, शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) शहरप्रमुख, बदलापुर

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरद पावर) के प्रदेश महासचिव ने बताया कि बदलापुर के लोगों को पता हैं कि भाजपा, शिंदे के लोग आश्वासन देने में माहिर है। विधायक किशन कथोरे तो दो साल से चिल्ला रहे हैं कि उनकी ऐसी योजना बन रही है कि भविष्य में पचास साल तक पीने की तकलीफ बदलापुर के लोगों को नही होगी। आज भी सिरगांव व बदलापुर-पश्चिम में नई बन रही इमारत के लोगों को बरसात में पानी की किल्लत रहती हैं। बरसात में लोगों को टैंकर के सहारे रहना पड़ रहा है। लोकसभा चुनाव सामने देखकर बदलापुर के लोगों को सत्ताधारी केवल आश्वासन का चूरन दे रहे हैं। यह आश्वासन बदलापुर के लोगों के लिए अप्रैल फूल न बन जाय।
-अविनाश देशमुख, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरद पावर) प्रदेश महासचिव

अन्य समाचार

अब तक