मुख्यपृष्ठनए समाचारसिस्टम की छाती पर सवार खनन माफिया ... एमपी में सरकारी कर्मियों को...

सिस्टम की छाती पर सवार खनन माफिया … एमपी में सरकारी कर्मियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा!

एक के बाद एक सामने आ रहीं घटनाएं 
मोहन यादव सरकार पर उठ रहे सवाल

सामना संवाददाता / भोपाल 
भाजपा शासित मध्यप्रदेश में खनन माफिया सिस्टम की छाती पर सवार नजर आ रहे हैं। एक बार फिर से खनन माफियाओं ने सरकारी कर्मियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा है। इस तरह की कई घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी हैं। इन घटनाओं के बाद से मोहन यादव सरकार पर सवाल उठने लगे हैं। घटना शाजापुर की है, जहां अवैध खनन कर रहे लोगों को रोकने गए सरकारी कर्मी पर हमलाकर दिया गया, जिसके बाद किसी तरह से अपनी जान बचाकर सरकारी कर्मी वहां से भाग खड़े हुए। बता दें कि अभी पिछले साल नवंबर में ही शहडोल में खनन माफिया ने एक पटवारी पर गाड़ी चढ़ाकर उसकी जान ले ली थी। पटवारी रात में अवैध खनन का निरीक्षण करने गए थे।
दिखावे के लिए कार्रवाई
हरदा जिले में भी पूर्व मंत्री कमल पटेल के इलाके से लगातार अवैध खनन हो रहा है। यहां से दिन रात अवैध रेत से भरे ओवरलोड डंपर और ट्रैक्टर-ट्रक निकल रहे हैं। इसके खिलाफ टिमरनी के विधायक ने शिकायत भी की थी, लेकिन नतीजा वही ढाक के तीन पात। जब-तब दिखावे के लिए सरकारी कर्मचारी कुछ कार्रवाई करते हैं और ट्रकों-डंपरों को बंद कर देते हैं, लेकिन माफिया फिर सरकारी जुर्माना भर कर अपने वाहन छुड़ा लेते हैं और फिर बेरोकटोक खनन शुरू कर देते हैंै।
नहीं थम रही घटना
शाजापुर के ताजा मामले के बाद एक बार फिर मामला दर्ज हो गया है पर इसका असर कितना होगा यह अपने आप में सबसे बड़ा सवाल है। सवाल इसलिए क्योंकि मध्यप्रदेश में इस तरह की घटनाओं का सिलसिला बहुत लंबा है। मध्यप्रदेश में ये हालात तब हैं जब पटवारी से लेकर आईपीएस अधिकारी तक की हत्या माफिया कर चुके हैं।

खनन माफियाओं के हौसले बुलंद 
रिपोर्ट्स के अनुसार, शाजापुर जिले की कालापीपल तहसील में खनिज विभाग को जानकारी मिली कि कालीसिंध नदी से रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है। इसी को देखने और रोकने के लिए राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ खनिज अधिकारी आरिफ खान दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। जब अवैध उत्खनन रोकने और उत्खनन के काम में लगी मशीनों को जब्त करने की कोशिश की गई तो ग्रामीण भड़क गए और टीम पर हमला कर दिया। इस हमले का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें प्रशासनिक टीम पर हमला करने वाले एकदम खून के प्यासे दिख रहे हैं।

अन्य समाचार

अब तक