मुख्यपृष्ठनए समाचारमौजूदा शासक नहीं चाहते हैं लोकतंत्र! ... आदित्य ठाकरे ने की कड़ी...

मौजूदा शासक नहीं चाहते हैं लोकतंत्र! … आदित्य ठाकरे ने की कड़ी आलोचना

सामना संवाददाता / मुंबई
उत्तर मुंबई लोकसभा से भाजपा उम्मीदवार पीयूष गोयल के बेटे ध्रुव गोयल के एक कार्यक्रम में हाजिरी लगाने के लिए मुंबई के ठाकुर कॉलेज के छात्रों के साथ जबरदस्ती किए जाने की घटना को लेकर शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि यह भाजपा की तानाशाही है। ये शासक हमारे देश में लोकतंत्र को चलने देना ही नहीं चाहते हैं। वर्तमान की कुछ घटनाएं इसकी गवाह बन रही हैं।
आदित्य ठाकरे ने ट्वीट किया है कि इन छात्रों को परीक्षा से एक दिन पहले उत्तर मुंबई के भाजपा उम्मीदवार के बेटे के समारोह में शामिल होने के लिए मजबूर किया गया।
भाजपा और कॉलेज प्रशासन को लिया आड़े हाथों
आदित्य ठाकरे ने भाजपा और कॉलेज प्रशासन को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि इस घिनौने कृत्य के लिए कॉलेज के प्रिंसिपल को निलंबित क्यों नहीं किया जाना चाहिए? इस तरह का गुस्सा भरा सवाल आदित्य ठाकरे ने किया।
लोकतंत्र का घोंटा जा रहा गला
शिवसेना ने भी अपने आधिकारिक सोशल मीडिया अकाउंट पर घटना का वीडियो शेयर कर सत्तारूढ़ पार्टी की आलोचना की है। साथ ही कहा गया है कि ठाकुर कॉलेज के छात्रों ने देश में लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश कर रही भाजपा का पर्दा फाड़ दिया है। इस पार्टी के हाथों में देश का भविष्य वैâसे सुरक्षित रहेगा जो छात्रों के पहचान पत्र जब्त कर लेती है और उन्हें परीक्षा से एक दिन पहले हाजिर रहने के लिए मजबूर करती है? इस तरह का सवाल शिवसेना ने पूछा है।

अन्य समाचार

अब तक